#berozgari

5 posts
  • smritishukla 81w

    #abhivyakti16
    @chahat1samrat। जी
    #prem
    #berozgari
    यहां प्रथम आकर्षण को सम्मिलित नहीं किया गया है।

    Read More

    ©smritishukla

  • juhigrover 116w

    सुबह उठते ही हमारा ध्यान अखबार पे जाता है,
    और कुछ भी ग़लत होता है,सरकार ही ग़लत है,
    अग़र अपराध ज़्यादा होते हैं,तो सरकार ग़लत है,
    महंगाई, ग़रीबी, बेरोज़गारी, जनसंख्या वृध्दि....,
    कुछ भी हो,कोई हो न हो, सरकार तो ज़िम्मेदार है।
    हम चाहे कभी भी टैक्स न भरें, हम हमेशा सही हैं,
    हम सामान लेते समय छुपा के कम पैसे दें, सही हैं,
    हम कहीं कुछ ग़लत देख आगे चल दें, हम सही हैं,
    हम कुछ ले दे कर चुनाव में हिस्सा लें, हम सही हैं,
    हम अपने माथे पे सही का ठप्पा लगवा कर लाये हैं।
    अग़र बदलाव चाहते हो तो पहले खुद को बदलो,
    पूरा समाज तो बदलेगा, सरकारें भी बदल जायेगी।
    कोई सुबह उठते ही नही कहेगा कि सरकार गलत है,
    सरकार भी हम में से है, मतलब कि हम ही गलत हैं।
    ©juhigrover

  • nainaarora 181w

    बेरोज़गारी हर किसी को शायर नही बनाती जनाब

    पर शायर ज़रूर बेरोज़गार लगने लगते है।

    ©nainaarora

  • ekta__ 187w

    @hindii #Berozgari
    Inspired by @drinderjeet Sir's post
    @shriradhey_apt @divyansh_09 @trickypost @panchdoot @ayush_tanharaahi @ayushsinghania @hindiwriters @mrigtrishna

    Berozgari ke aalam me bhi,
    grahsati ki gadi khechni padi,
    Jab kamane ka Koi zariya naa raha,
    Toh hame apni shayari bechni padi...

    Read More

    बेरोज़गारी

    बेरोज़गारी के आलम में भी,
    गृहस्थी की गाड़ी खेचनी पड़ी,
    जब कमाने का कोई ज़रिया ना रहा,
    तो हमें अपनी शायरी बेचनी पड़ी...
    ©ekta__

  • thedkv 206w

    #हिंदी #writersnetwork # shayri #berozgari

    Read More

    वो सोया रहा इस उम्मीद मे
    की एक दिन सब बेहतर होगा
    वो माँ- बाप से भी लड़ आया था,
    और दुनियां से भी लड़ रहा था,
    उसके ज़मीर का बहुत बुरा हाल था,
    बेशक वो एक "बेरोजगार" था !!!
    ©thedkv