#ashiq

151 posts
  • authorsahiilkatoch 15w

    Yeah ishq hi ajeeb hai
    Tum na samajh paoge
    #ashiqui #ashiq #love #romance #romantic #romanticvibes

    Read More

    Amar ishq

    Ishq agar karlo mujhse
    To tamaam raste khul jaenge

    Maut kabhi naseeb na hogi
    Maut k fariste bhi hume ghul jaenge

    Mang lenge unse amarta vardan
    Mang lenge unse amarta vardan

    Armit se kalam say aap ishq-e-amar nawaze jaenge
    .
    ©authorsahiilkatoch

  • sramverma 50w

    Date 02/09/2021 Time 10:06 AM #SRV #Ashiq

    आशिक़ों की करतूतें देखो
    उनके दीवानेपन की भी हद है ;

    जिनके आशिक़ हज़ारों है ;
    उन्ही पर ये भी मरा करते है !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner..

    Read More

    आशिक़ों की करतूतें देखो
    उनके दीवानेपन की भी हद है ;

    जिनके आशिक़ हज़ारों है ;
    उन्ही पर ये भी मरा करते है !

    ©sramverma

  • sramverma 62w

    Date 08/06/2021 Time 1:48 PM #SRV #ashiq

    वो शायरी जो मैंने
    तुम पर लिखी
    वो शे'र जो मैंने
    अपनी पलकों से
    उतार दिल के काग़ज़
    पर तहरीर किया

    वो शे'र जो तुम ने
    मुझ पर लिखा
    जिसने एक बूँद
    बराबर इस रिश्ते
    को नम मिट्टी में
    परवान चढ़ाया

    वो शायरी जब
    हमारी बाँहों में
    बाँहें डाल कर
    खिलखिलाती है

    वो शे'र जब
    तुम्हारे क़दमों से
    क़दम मिला कर
    चलता है

    तब मैं सोचती हूँ
    इस धरती पर
    हम दोनों जैसा
    कोई और आशिक़
    है ही नहीं है ना !

    शब्दांकन © एस आर वर्मा

    Image's taken from Google/Facebook/pinterest credit goes to It's rightful owner..

    Read More

    ,

  • raojayant 75w

    साल डेड साल होगया एक किताब ख़रीदे हुए , आज तक वैसी रखी हुई है , बिना सलेटों के ,बिना किसी निशान के, महक आज भी वैसी है जैसी २९/०८/२०२० को थी , नहीं नहीं किताब बुरी नहीं है और ऐसा भी नहीं लेखक पसंद नहीं , अगर ऐसा होता ,तो मालिक क्या १५० रुपए फ़िज़ूल में उड़ाए जाते हैं ? ....तीव्र इच्छा , तलब ,लालसा,चाह अरे कुछ भी बोल लो दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है , उन छंदों की ,छंदों के चरण की , चरणो के पद की , सब के सब मुझे पढ़ना चाहते है , पर उनको क्या मेरी उन्हें न पढ़ने की जानकारी है ? शायद भली भांति है , उन सभी को पता है उनका मूल उद्देश्य मुझमे उन्हें देखना , शयद तभी इंतजार कर रहीं है वें मेरे जीवन में उस इश्क़ के आगमन का , उस प्रक्रिया की जो हर आशिक़ जीता है और सहता है, उस हर मैलोड्रामैटिक बॉलीवुड लव स्टोरी जो ९०स के दशक में आशिकों को क्या क्या न करने के लिए प्रोत्साहित करती थी, वे सभी देखना चाहती है ,मेरे उस दौर को जिसके बिना वे न तो समझी जा सकती न पढ़ी....इसलिए आज तक रोज़ाना धूल हटाता हूँ उस हसीन भविष्य से |.

    ~ जयंत
    ©raojayant

  • shailen_singh_ 77w

    चाहा था हमने जिसे अटूट बन कुछ इस कदर कि क्या बताए ,
    चाहा था हमने जिसे अटूट बन कुछ इस कदर कि क्या बताए
    कुछ यू हाल कर गए वो हमारा इस भीड़ में......
    आज भी बिखरे दिल के टुकड़े जोड़ रहे है ढूंढ ढूंढ कर इस फ़िराक़ में कि कहीं और दिल लगाए,
    पर कंभक्त कुछ इस कदर गिरि हुई है ये दुनिया कि दिल लगाए तो भी किस रूह से लगाए ।

    ©shailen_singh_

  • diledastan 80w

    Mohabbat

    ,
    ,

    , ...
    ©diledastan

  • dard786 84w

    MEHBOOB ASHIQ

    Mehboob auro pe meherbaan aur
    Ashiq par sitam gar hote hai
    ©dard786

  • core_of_love 91w

    Ektrfa mohabbat aise hi hoti hai aashiqi, apna apna khayal khud Rakho apni mohabbat ka. Kahi se koi bawaaaL Na Ho JayE.....
    .
    .
    .
    .
    .
    @mirakee @mirakeewriter #mirakee #writer #writerjob #shayri #ashiq #ishq #mohabbat #pyar #intazar @writer #love #lovestory #mirakeeme #me #yuhiii #core_of_love #2919 #good #goodmorning

    Read More

    Yuhiii...(1.0)

    GhaR ki chaR Chowk se,
    GujrE hum Char dost mE,
    Koi ishara na mila tumhara,
    Char baj gye dopehar me,
    Piya ki Amma Puche,
    Koi Anewala hai kya????
    Nahi, Yuhii Gujar rahy thy IntaZaaR me.
    ©core_of_love

  • kumar_adi 108w

    #lekhak#ashiq#mohabbat
    Hello Mirakee Family��������, Hope that you all will like it.

    Read More

    ज़रूरी नहीं हर लिखने वाला आशिक़ हो....!
    कुछ लोग लिखने को ही मोहब्बत मानते हैं....!!
    ©kumar_adi

  • my_pen_zone 118w

    No more

    Baby,
    I can't write no more
    Yeh tera shayar thak gaya ek tarfa likh likh ke
    Baby,
    I can't live no more
    Yeh tera ashiq mar gya yaado me bikh bikh ke

    Kyu tu aati na ab lautkar
    Chali jati kyu tu mujhe dekhar
    Yeh tera ashiq khoon se likta tha tera pyaar,
    Par yeh mar gya pyaar me likhkar
    Kaash tere haatho me ho mera haath
    Har kaali raat me ho tera saath.
    Meri kalam se nikalti teri pyaar ki baat.
    Mujhe aaj bhi yaad teri meri pehle mulakaat.
    Har raat khaabo me karta tera intezaar.
    Tujhse milne ke banata bahane hazar.
    Tu chhod chali gyi phir bhi bol na saka
    Shyad isko kehte hai ek tarfa pyaar.
    But no,

    Baby,
    I can't write no more
    Yeh tera shyara thak gya ek tarfa likh likh ke
    Baby,
    I can't live no more
    Yeh tera ashiq mar gya yaado me bikh bikh le
    ©king_dark04

  • ishq_allahabadi 119w

    सहाफ़त = Journalism

    अगर जो "इश्क़" लिखे तो तुम्हे आशिक़ बनाती है,
    बयाँ हो हक़ अगर तो फ़िर बहुत दुश्मन दिखाती है,
    स्याही भी अजब है गर कभी बिक जाए तो लोगों,
    तबाही, मौत का फिर खेल सड़कों पर कराती है।

    सहाफ़त बिक गई है कौड़ियों के दाम भारत में,
    ज़हर और नफ़रतें दिल में बहुत है आम भारत में,
    सहाफ़ी क्या किया तूने मेरी इस पाक मिट्टी को,
    मुहब्बत के प्रचारक थे किशन और राम भारत में।
    ©ishq_allahabadi

  • vijaya_bharathi 119w

    Ashiq ho meri husn ki, ya hunar ki?
    Ay husna ki ashiq tu dafa ho ja,
    Hunar ki ashiq tu qarib reh ja..
    ©vijaya_bharathi

  • shubhampaliya09 120w

    Ashiq

    Are samundr Kitna v ghahra kyu naah ho ,
    me thodi dubungaa
    me to Ashiq hu sahab
    mr kr v nhi mrunga
    ©shubhampaliya09

  • your_beloved_poet_sudarshan 121w

    बाल

    मेरे कांधे पे गिरा हूआ तेरा बाल,
    अक्सर पूछा करता है मुझे,"चैन से नींद आती है क्या अब.....मेहबूब बेवफा निकला सूना हैं मैने!!"
    ©your_beloved_poet_sudarshan

  • aasshiqq 122w

    is lockdown mein aadhi ladkiya ladko ko bna rahi hai aur aadhi patasi ko.


    ©aasshiqq

  • aasshiqq 122w

    aaj kal woh ludo me kaat rahi hai.


    ©aasshiqq

  • befiqr_shayar 122w

    तकल्लुफ न करना नज़रे झुकाने की ||
    इन कजरारी आँखों से ही तो प्यार करते है |||
    ढूंढो तो चेहरे खूबसूरत कयी है इस जहाँ में ||
    सच्चे आशिक़ है मोहतरमा तेरी पाक सीरत पे मरते है |||


    ©befiqr_shayar

  • saptadeep_paul 123w

    Us Raat

    Us raat ki bat hi kuch aur thi
    Kyuki ek nhi do-do dil tuti thi.
    Halat dono ke alag the,
    Par jazbaat dono ke ek the.
    Ek ko laga sabse kimti dosti chut gayi hai
    Toh dusre ko laga mohabbat chut gayi hai.
    Har muskil mei jese ek dusre ka sath diya karte the,
    Us raat bhi dono ek dusre ko gale lagana chate the.
    Ek dusre ka sahara banna chahte the.
    Par us raat ki bat hi kuch aur thi,
    Kyuki ek nhi do-do dil tuti thi.
    Halat dono ke alag the,
    Par jazbaat dono ke ek thi.
    ©junior_bob

  • saptadeep_paul 126w

    क्यूं

    क्यू ?
    क्यों अनजाने में धड़कता है तुम्हारे लिए मेरा दिल ?
    कौन हो तुम ?
    नहीं तुम मुझे जानती हो ना ही मैं तुम्हें जानता हूं.
    फिर भी तुम्हारी हर एक पिक या वीडियो देखने से लगता है तुम्हें मैं बरसों से पहचानता हूं.

    क्यों अनजाने में धड़कता है तुम्हारे लिए मेरा दिल ?
    तुम जब भी कोई पोस्ट लाइक करती हो या वीडियो देती हो ,
    देख कर लगता है कि तुम अंदर से ना टूटी हुई हो ,
    किसी के इंतजार में रूठी हुई हो.

    क्यों अनजाने में धड़कता है तुम्हारे लिए मेरा दिल ?
    पता नहीं तुम्हारे लाइफ का वह कौन सा रॉन्ग नंबर है ,
    पर मैं उसे हटाकर अपना फोन नंबर तुम्हारे फोन में सेव करना चाहता हूं .

    क्यों अनजाने में धड़कता है तुम्हारे लिए मेरा दिल ?
    चाहे वह मेरा गुस्सा क्यों ना हो या मेरा दुख ,
    क्यों तुम्हारी कोई एक फोटो देखने से मेरा दिल बोलता है बेटा तू रुक।
    अब वक्त है मुस्कुराने का ,
    उससे जाकर कुछ प्यार भरी बातें बोलने का ,
    और उसका दिल बनके उसी का दिल धड़कने का .

    हां हो सकता है तुम हमेशा मुस्कुराती हो ,
    पर तुम्हारी आंखें तो कुछ और ही कहती रहती है.
    हां हो सकता है तुम अपनी वह प्यारी सी मुस्कान से
    हम जैसों का दिल में गुब्बारा फोड़ दी हो .
    पर तुम्हारी आंखें तो हमेशा कहती रहती है कि तुम ,
    किसी के लिए हमेशा खुद की दिल को तोड़ते रहती हो .
    क्यों अनजाने में धड़कता है तुम्हारे लिए मेरा दिल ?
    ©junior_bob

  • avneeshashok 141w

    वो हर शाम बिन ठहरे गुज़र जाये।
    जिसकी सदाओं में तेरे आने की खबर ना आये।

    ©Avneesh_Ashok