#alfayus

578 posts
  • yusuf_meester 11w

    तुम चाहे किसी को भी ढूंढ लो मुझमें जाना

    हमेशा मिलूँगा मैं तुम्हें तेरी मुहब्बत बनकर

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 13w

    ताले तो पहले से ही लगे थे तेरे घर में

    फिर भी दस्तक तेरे दरवाजे पे दे आया मैं

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 13w

    #alfayus

    Ye jo saanso me lipat-ti ishq ki dor hai

    Nigaaho se pucho ishara kiski or hai ?

    © Yusuf Meester

    Read More

    ये जो साँसों में लिपटती इश्क़ की डोर है

    निगाहों से पूछो इशारा किसकी ओर है?

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 13w

    #alfayus

    Use kya khabar ki mujhe kya ho gya

    Vo bs karib se guzar gye aur hadsa ho gya

    © Yusuf Meester

    Read More

    उसे क्या खबर कि मुझे क्या हो गया

    वो बस करीब से गुज़र गए और हादसा हो गया

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 13w

    तेरे चाहने वालों की कमी नहीं गुलिसताँ में
    क्यूँ ना कैद हो जाऊँ मैं , अपने ही मकाँ में

    ख़्याल-ए-हिज़्र मेरा कोई वसवसा तो नहीं
    तेरी दरकिनारी चल रही है दिल'ए'नादाँ में

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 13w

    तुम जानती हो कि तुम्हें देखे बगैर मुझे चैन नहीं मिलता

    फिर मेरी बेक़रारी की वजह क्यूँ बनती हो तुम ?

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 19w

    #alfayus


    Yahi andaz-e-bayaan tiri, shauq-e-sama'at hai miri

    Dil ko roo-ba-roo kr du kyu na phir tire jazbaato se


    © Yusuf Meester

    Read More

    यही अंदाज़-ए-बयां तिरी , शौक़-ए-सम'आत है मिरी

    दिल को रू-ब-रू कर दूँ क्यूँ न फिर तिरे जज़्बातों से

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 19w

    #alfayus

    Baat nakhro ki hoti to jaan mai tujhe likhta

    Par yaha toh zikr dilwalo ka hua hai

    © Yusuf Meester

    Read More

    बात नख़रों की होती तो जान मैं तुझे लिखता

    पर यहाँ तो ज़िक्र दिलवालों का हुआ है

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 19w

    #alfayus


    Baatein azaab hai unki, muskurahat zalzala koi

    Chaal fitno se kam nhi, husn ho jaise balaa koi


    Dil mira v reza-reza ho chuka us jahannum me

    Unki aafat nigaaho se kaha bach paye bhla koi


    © Yusuf Meester

    Read More

    बातें अज़ाब है उनकी , मुस्कुराहट जलजला कोई
    चाल फितनों से कम नहीं, हुस्न हो जैसे बला कोई

    दिल मिरा भी रेज़ा - रेज़ा हो चुका उस जहन्नम में
    उनकी आफ़त निगाहों से बच पाए भला कोई ??

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus


    Muhabbat me mujhko vo aamada krke

    Khud hi mukar gaye, wada-e-wafa krke


    Ab unke karib jane se bhi darta hu mai

    Nigaahein fer na le , wo paas bula krke


    © Yusuf Meester

    Read More

    मुहब्बत में मुझको, वो आमादा करके
    खुद ही मुकर गए वादा-ए-वफा करके

    अब उनके, करीब जाने से डरता हूँ मैं
    निगाहें फेर न ले वो, पास बुला करके

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus


    Hushn ki aandhi me, ulfat ka naseman bikhar gya

    Aag aisi lgayi usne baharo pe k chaman bikhar gya


    Vo khilkhilata chand bhi , mayoos ho baitha hai aaj

    Dekh zalwa-e-mehtab mera , uska man bikhar gya


    ©Yusuf Meester

    Read More

    हुस्न की आँधी में , उलफत का नशेमन बिखर गया
    आग ऐसी लगाई बहारों पे उसने, के चमन बिखर गया

    वो खिलखिलाता चाँद भी मायूस हो बैठा है आज
    देख जलवा-ए-महताब मिरा, चमकता मन बिखर गया

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus

    Ishq-e-kaamil ki talab ab kya karna

    Zok-e-ulfat hi jab bewafa ho gyi ho

    © Yusuf Meester

    Read More

    इश्क़-ए-कामिल की तलब अब क्या करना

    ज़ोक़-ए-उलफत ही जब बेवफ़ा हो गई हो

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus

    Har shakhs teri sargoshi me doob jae

    Koi kalaam 'Yusuf' aisa bhi pesh karo

    ©Yusuf Meester

    Read More

    हर शख़्स तेरी सरगोशी में डूब जाए

    कोई कलाम 'यूसुफ़' ऐसा भी पेश करो

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus


    Lafz atak jate hain aksar mire, mehboob k saamne

    "Yusuf" zara pta karo , ye Ishq haklaata to nahi ??


    © Yusuf Meester

    Read More

    लफ़्ज़ अटक जाते हैं अक्सर मिरे, महबूब के सामने

    'यूसुफ़' ज़रा पता करो, ये इश्क़ हकलाता तो नहीं?

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 20w

    #alfayus

    Uski aankho k isharo me ishq ki kch baat ajab si thi

    Pdi jo mujhpe dil-e-muztar se mili najaat ajab si thi

    © Yusuf Meester

    Read More

    उसकी आँखों के इशारों में, इश्क़ की कुछ बात अजब सी थी

    पड़ी जो मुझपे दिल-ए-मुज़्तर से मिली नजात अजब सी थी

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 21w

    तेरी शौक़ - ए - नजर मेरी आँखों में नमी दे गई

    उलफत नहीं, बस तुम्हें देखने की इजाज़त माँगी थी मैंने!

    ©yusuf_meester

  • yusuf_meester 22w

    सपनों के सागर में डुबकियाँ लगा-लगाकर मुहब्बत की सासें फुलने लगी है
    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 22w

    Khwaab kbse muntazir hain unke istekbaal ko

    Kambakht... Nind hi muh banaaye baithi hai !!

    © Yusuf Meester

    #alfayus

    Read More

    ख़्वाब कबसे मुंतजिर हैं उनके इस्तकबाल को

    कमबख़्त... नींद ही मुँह बनाए बैठी है !

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 27w

    इक ज़माना गुजार दिया हमने, सितमगरी का मुस्कुराकर

    तिरे लबों से इक 'आह' निकलने का इंतज़ार करते करते

    ©यूसुफ़ मिस्टर

  • yusuf_meester 29w

    अपनी मुहब्बत के शोक में दीये जला रहे हैं
    हर्फ़-दर-हर्फ़ एहसास-ए-इश्क़ मिटा रहे हैं

    तुम लौट के आना चाहते हो मिरी दुनिया में
    और हम तिरी दुनिया छोड़ के जा रहे हैं

    ©यूसुफ़ मिस्टर