#aashiqi

110 posts
  • goldenwrites_jakir 3w

    #jp #zakir #jakir #song #sad #music #yaden #mohabbat #ishq #kalam #kagaz #aashiqi #rachanaprati92 @mamtapoet

    ज़िन्दगी के खूबसूरत रंग - दिल से होकर शब्दो में घुल गए
    बनकर कागज़ पर तस्वीर मोहब्बत की कलम की परछाई बन गए

    Read More

    वो बेवफा ✍️

    किसको दिखाऊं मैं - दिल के ये छाले
    कैसे छुपाऊं मैं - आँखों के ये अश्क पुराने
    हर इक तरफ - तन्हाई की बरसात
    हर इक दर्द दिल का हरा हरा
    मेरी ज़िन्दगी का ये कैसा फलसफ़ा मेरे खुदा तूने लिखा
    वो बेवफा ✍️ वो बेवफा ✍️ वो बेवफा ✍️ वो बेवफा है

    यादों में वो रिमझिम तेरी मुलाक़ातें - वो तेरी मीठी मीठी बातें
    वो तेरा मुझसे रूठ जाना - वो तेरा मुझसे रूठ जाना
    तुझको फिर मेरा मनाना - वो कल याद आता है - दिल को बहुत सताता है - कैसे मैं अब जियूँ तन्हा - तुम बिन ये ज़िन्दगी इक सज़ा
    कैसे किसको दिखाऊं मैं दिल के ये छाले - कैसे अब छुपाऊं में आँखों के ये अश्क पुराने - तू बेवफा - तू बेवफा - तू बेवफा
    कैसे तुझको मैं बुलाऊं - कैसे मैं तुझको बुलाऊं
    वो बेवफा वो बेवफा वो बेवफा ✍️✍️✍️✍️✍️✍️

    ज़िन्दगी के सफ़र पर थामकर हाथ मेरा तू रहा
    देकर कांधे का सहारा - सुनता रहा तू हर इक राज़ दिल का मेरा - तुझसे ही मेरी सुबह थी तुझसे ही रातों का सफ़र - तू ही इबादत तू ही दुआ थी फिर कैसे तू मुझसे बिछड़ गया ओ हमसफ़र ओ हमसफ़र ओ हमसफर तू बेवफा कैसे हो गया तू बेवफा कैसे हो गया ओ हमसफर ओ हमसफ़र कैसे तू बेवफा हो गया कैसे मैं तुझको बुलाऊं बेवफा बेवफा बेवफा ✍️✍️✍️✍️

    वो बेवफा वो बेवफा वो बेवफा ✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️✍️
    ©goldenwrites_jakir

  • goldenwrites_jakir 4w

    #jp #zakir #jakir #jp #zakir #jakir #song #sad #music #yaden #mohabbat #ishq #kalam #kagaz #aashiqi

    Follow my writings on www.miraquill.com/goldenwrites_jakir #miraquill #mirakee

    Read More

    वो चला गया ✍️

    करके रौशनी - दिल की दुनियां में
    जलाकर घर मेरा "वो चला गया ,,

    धूप छाँव का अब पता नही
    जुगनू मेरी ज़िन्दगी को बनाकर वो चला गया ,,

    इल्जाम किस पर तन्हाई का अब हम दें
    इंतज़ार के लम्हों में - यादों से दोस्ती करा कर वो चला गया ,,

    दिल की जुबां पर रख कर ख़ामोशी के ताले
    कागज़ पर कलम की मोहर लगा कर वो चला गया ,,

    चाँद सूरज हर रोज आते जाते फलक से जमीं पर
    ख्यालों के शहर में घर अपना बनाकर वो चला गया ..!¡!
    ©goldenwrites_jakir

  • meersaab 16w

    जान- ए - जाना

    लुत्फ़ आ जाएगा जन्नत की
    फिज़ाओं का मुझे
    अपने दामन की ज़रा आप
    हवा दो जाना ।
    आपके दर पे आया हूं
    बहुत सी उम्मीदें लेकर
    अपने बीमार ए मोहब्बत को
    दवा दो जाना ।
    इसकी उम्मीद को लैला
    भी लिखे गुलशन में
    अपने मजनू को ऐसी दुआ
    दो जाना ।
    ©meersaab

  • dharmraj_ansh 31w

    क्या कहूं?

    क्या कहूं
    कि ये आशिक़ी क्या है
    और इसमें कितने वफादार है?
    कभी कभी
    इस आशिक़ी का सेहरा देखकर
    समझ नही आता
    कि असल में
    मैं कौन हूं
    और इस वफा में
    कौन, कितना, किसका है...?
    ©dharmraj_ansh

  • unicornworld 52w

    Faasle

    Majbooran faasle jo din me mehsoos hote hain,
    Wo raat me nazdikiyo ki soch bayan kar jati hain

    Ye wafa ki hum sirf aapke hain,
    Wo bewafa ankho ka apke liye uthna bayan kar jati hain.

    Duniya se aapne baatein to khoob kari,
    Lekin apki khamoshiyo ko samajhna mere dil ka bayan kar jati hain.

    Rago main banke khoon jo daudte ho,
    Wo tez dhadkan ki raftaar bayan kar jati hain.

    ©xee

  • goldenwrites_jakir 55w

    .

  • deepak_vashisth 59w

    Khilona

    ख़ता उसकी नही यारों,
    अक्सर जब बच्चे का मन भर जाता है, तो खिलौना तोड़ दिया करता है।।

    ©deepak_vashisth
    28_08_2020

  • meersaab 66w

    तुम्हारी याद

    जब आंख हमारी खुलती है
    तो ओझल तुम हो जाती हो ।
    कल रात को फिर तुम आओगी
    ये उम्मीद छोड़ कर जाती हो ।
    तो क्यों चाहत है तुमसे इतनी
    ये बात समझ ना आती है ।
    जब रात घनी हो जाती है
    मुझे याद तुम्हारी आती है ।
    ©meersaab

  • sudhirbajwa 66w

    मैं अब तुम्हे याद नहीं करता…

    तुम मुझे अब याद हो गए हो।।

    ©sudhirbajwa

  • sudhirbajwa 66w

    जो इंसान आपको खुश रख सकता है,

    उससे ज्यादा Perfect आपके लिए कोई नहीं हो सकता!

    ©sudhirbajwa

  • aman__writes_ 74w

    Afsos

    afsos is baat ka hota hai..
    ki chle jaane ke baad ye jahaan rota hai...
    dilon ka mol nahi is bazaar mein koi...
    yahan jismo ka hi sauda hota hai...

    gehraiyon mein koi jata nahi...
    bs kinare se moti sanjota hai...
    jhaanke na koi khud mein kbhi...
    bs dusron ki kalikh hi dhota hai...

    asli nahin is dunia mein koi...
    sb pehne hue ik mukhota hai...
    zindagi ke maksad se avgat nahi...
    bs khata peeta aur ye sota hai...

    sunta nahin gareebon ki koi...
    ki khali pet kaise vo sota hai...
    izzat bchani hai tumko apni yahan...
    toh raasta tumhara smjhota hai...

    koi bandhu tumhara yha hai nahin...
    nafraton ke beej hr koi bota hai...
    jinhe kehte hain apna btayein hr gum...
    vhi peeth mein chura chubhota hai...

    kanoon banae banane valo ne mgr...
    yha kanoon bhi andha hi hota hai...
    kehte hai swarg hai uss dunia mein kahin...
    pr jaane ke baad kaun lauta hai..

    aalam yahan iss dunia ka aisa hai aaj,
    ki vo rona bhi do din ka hota hai...
    afsos is baat ka hota hai...
    ki chle jaane ke baad ye jahan rota hai...
    ©aman_writes_

  • aman__writes_ 74w

    wo aur mai

    vo nazron se yun ojhal hue,
    ki jaise mere dil mein unki tasveer na hogi...
    pr unke baad hum kisi aur ke ho jae,
    is jahan mein kisi ki aisi taqdeer na hogi...
    ©aman_writes_

  • awara_shayer 75w

    لفظ

    Mere lafzo'n ko km padha jaye.....
    Mai lehza hoon udaas logo'n ka....

    @awara_shayer_

    मेरे लफ्जों को कम पढ़ा जाए,
    मैं लहजा हूं उदास लोगों का।

    میرے لفظوں کو کم پڑھا جائے،
    میں لہذٰا ہُوں اداس لوگوں کا۔
    ©awara_shayer

  • zubairg 76w

    Ik Aur Mulaqaat....

    Hum kal raat ko Soo kar jaag fir uthay...
    Hum n unse baat toh ki thi, par kambhakht fir Ruuthay..
    Taqdeer aur muqdar donu humse khel rahy thay...
    Haath toh thaama tha, Sath b chalay Aur Sath chal kar fir Chuutay...
    ©zubairg

  • dishagandhi 76w

    Vo dil he kya
    Jo tere liye na dhadka.
    Vo aashiq he kya
    Jo pyaar me na tadpa.
    ©Disha Gandhi

  • kaalkishishu__ 77w

    जरूरत

    इन दिनों हमें भी थोड़ा सा टूटने की ज़रूरत लगती है।
    जबसे देखा कि वो टूटी हुई भी कितनी खूबसूरत लगती है।
    ©sahilkaushik69

  • vswrites97 77w

    मै कुछ गफलत में हूं हां उनसे कुछ ज्यादा मांग लिया है
    दोस्ती की आड़ में मोहब्बत को अंज़ाम दिया है,
    वैसे तो यकीनन अब ये दोस्ती भी नहीं रहेगी
    मगर तसल्ली रहेगी मुझे इस बात की कि उन्हें दिल-ए-हाल तो बयां किया है....
    ©vwrites97

  • themoonlightbeats 78w

    Waqt

    Tu vo ban gya,
    Jisse main caah nahi sakta...
    Or
    Main ab bhi vo hun,
    Jisse tune kabhi caaha tha...

    ©themoonlightbeats

  • misspg 79w

    *Aaj ke aashiq *

    Jnab hm thoda gire kya ....aaj kl k aashiq hme chlna sika rhe h, inki nadani to dekho ye dipak ko jlna sika rhe h......
    -Pooja gharoo
    ©misspg

  • saif_ali 80w

    आशिक़ी

    ہم کو اہ و بکا نہیں کرنا
    ان کو وعدہ وفا نہیں کرنا

    हमको आह ओ बुका नहीं करना ।
    उनको वादा वफ़ा नहीं करना ।।

    ہم پی الزام ہے اداسی کا
    رد اس الزام کا نہیں کرنا

    हम पे इलज़ाम है उदासी का ।
    रद इस इलज़ाम का नहीं करना ।।

    تجھ سے بی شک ہمیں بچھڑنا ہے
    پر تیرا دل برا نہیں کرنا

    तुझसे बेशक हमें बिछड़ना है ।
    पर तेरा दिल बुरा नहीं करना ।।

    شیخ جی رند کو نہ سمجھائیں
    اس کو کیا کرنا کیا نہیں کرنا

    शेख़ जी रिन्द को न समझाएं
    उसको क्या करना, क्या नहीं करना ।।

    عاشقی دللگی کا سامان ہے
    ان کو قیدی رہا نہیں کرنا

    आशिक़ी दिल्लगी का सामां है ।
    उनको क़ैदी रिहा नहीं करना ।।