#Paan

7 posts
  • entanglednerves 10w

    20.

    I downed a phew bottles of toddy last night aind slept phar ten hours straight
    My Joru aind my Bhaisiya were in panic this morning as I wouldn't wake up
    It waj a bootiful hangover aind I had a dream that waj philled with manifestation
    I imagined myself as an owner of the world's largest chain of Paan shops
    My Joru on the other hand running the largest chain of Saatvik food chain
    Aind my Bhaisiya busy signing contracts phar modeling on Animal Planet
    "Wake up, it ij afternoon!" I could hear my Joru's voice aind my Bhaisiya's moo
    I, then, woke up to a bootiful Sunday afternoon with an idea of making Toddy Paan!

    - Paanwaale ka Poetry

  • kanpur 73w

    गुटखा या पान थूके बिना किसी को एकदम सही पता समझाने से बड़ी कोई उपलब्धि नहीं है दुनिया में

    "गेखो भइया ख़ीघे गाना, पहए कौआहे ख़े गहिने ए एना फिअ खोआ आगे गाओगे को खेखू की पां की गुकान मिएगी उखी ख़े पूंख़ एना किवाई गी का घअ कौं ख़ा है।"

    -अभिषेक तिवारी

  • tadipar_misra 112w

    Excerpts from "Qissa Qissa Lucknowaa (Hindi Edition)" by Himanshu Bajpai

    "शिवनाथ उस दौर के आने से पहले ही रुख़सत हो गए जब उनकी सबसे ज़्यादा ज़रूरत थी। पिछले कुछ सालों में लखनऊ में शादी-ब्याह की दावतों में शाही पान दरबार की धूम है। जिसमें नवाबों के सामन्ती लटके-झटकों की घटिया-तरीन नकल के साथ पान पेश किए जाते हैं। अफ़सोस कि आज के लखनऊ में घटिया से घटिया चीज़ अपने माथे पर ‘शाही’ की चिप्पी लगाए बाज़ार में जलवानुमा है। शाही पान के शौक़ीनों को कौन समझाए कि लखनवी पान की असल लज़्ज़त शाहाना नहीं बल्कि फक़ीराना है, जिसे शिवनाथ जैसे बेशुमार दरवेश-सिफ़त पान वालों ने अपनी रूह से मुअत्तर किया है।"

  • universe_vibe 130w

    Meetha Paan

    Kuch log meethe paan ki tarah hote hai..
    Shuruwat me behad meetha aur aache
    Baad me thookne ke alawa kuch nai bachta

    ©universe_vibe

  • tiwari11jyoti 144w

    पान

    बीड़ा बनाई पान क्,खाई सईयाँ सांझ क्
    न ओठ लाली आई,जो आई हमका ऊ
    तोहरा याद त,तू गईला परदेस में
    अकेली भई हम देस में ,बनल कईसा भेस हमार
    तू जो गईला परदेस में,पान खाई तोहरे याद में
    रोई तकिया की आड़ में,ताना सुनि नन्द का
    गरियावे हमका सास,ससुरा देख हमके चिढ़ जावे
    जेठ उड़ाए उपहास,जेठानी करे न कोई काज
    देवर दे हमके चिटकाए,तू जो गईला तबहिं से
    हमरा है ई हाल,खाई अब पान
    याद करि ऊ रात......
    ©tiwari11jyoti

  • ishq_wali_tapri 161w

    जनाब!
    हमारा नाम भी उनकी जुबां पर बिल्कुल पान की लाली की तरह तो थी।
    थोड़ी देर ही सही मगर जुबां पर ठहरी तो सही।

    ©ishq_wali_tapri

  • writeitout 185w

    पान और दांत

    किसी ने कहा "पान खाने से दांत साफ होते है।"

    मैंने कहा,"हाँ, और ज़्यादा खाने से दांत ही साफ हो जाते हैं।"

    ©writeitout