#39posts

1 posts
  • archanatiwari 19w

    अलविदा

    अलविदा कहना तो आसान नहीं था,
    कह दे के इश़्क तेरा बेईमान नहीं था।
    ज़ज़्बातों से मेरी खेलता रहा बार-बार,
    दिल हमारा था कोई गुलदान नहीं था।

    अर्चना तिवारी तनुजा ✍️