#23march

28 posts
  • khwahishaan 29w

    युद्ध में जख्मी सैनिक
    युद्ध में जख्मी सैनिक साथी से कहता है:
    ‘साथी घर जाकर मत कहना,संकेतो में बतला देना,
    यदि हाल मेरी माता पूछे तो, जलता दीप बुझा देना!
    इतने पर भी न समझे तो दो आंसू तुम छलका देना!!
    यदि हाल मेरी बहना पूछे तो, सूनी कलाई दिखला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, राखी तोड़ दिखा देना !!
    यदि हाल मेरी पत्नी पूछे तो, मस्तक तुम झुका लेना!
    इतने पर भी न समझे तो, मांग का सिन्दूर मिटा देना!!
    यदि हाल मेरे पापा पूछे तो, हाथों को सहला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, लाठी तोड़ दिखा देना!!
    यदि हाल मेरा बेटा पूछे तो, सर उसका सहला देना!
    इतने पर भी न समझे तो, सीने से उसको लगा लेना!!
    यदि हाल मेरा भाई पूछे तो, खाली राह दिखा देना!
    इतने पर भी न समझे तो, सैनिक धर्म बता देना!!
    ©अज्ञात

    हमें यह कविता सोशल मीडिया से हासिल हुई है। हमें इसके रचनकार का नाम नहीं मालूम है। जिस किसी की भी यह कविता है, वह हमें इसकी सूचना दे सकता है। हमें उनका नाम प्रकाशित करने पर प्रसन्नता होगी।

    #saheeddivas #23march #bhagatsingh #sukhdev #rajguru #india #soldiers #army #armyday #mirakee #mirakeeindia #mirakeeworld #instagramwriters
    #instagram #tweeterwrites #khwahishaan #khwahishaanfoundation

    Read More

    ..

  • raman_writes 82w

    आज़ादी

    छोड़ के अपने घर को वो मतवाले चल दिए ।

    आज़ादी के लिए वो हर ताक़त से भिड़ गए ।।

    देख ना पाए ख़ुद की आँखों से वो आज़ादी ।

    पर हर एक शक़्श को वो आज़ाद कर गए ।।


    ©raman_writes

  • ntvirus 82w

    किसी धर्म को ना मानकर भी देश धर्म बता गया
    इंकलाब का भगत,भगत सिंह शहीद होकर भी अपना भगत बना गया।।♥️
    ©ntvirus

  • aashvigupta 82w

    कैसे कैसे लोग थे वों कैसे कैसे लोग...
    जब जहां से गए वहा से अर्थ मौत का ही बदल दिया,
    ना जाने मां ने उनकी खुटियो ऐसा क्या मिला दिया,
    जब जहां से गए वहा से अर्थ मौत का ही बदल दिया,
    वो धन्य थे लोग जिनकी धन्य थी जवानियां,
    वों कायरों में प्राण फुक जाए वों निशानियां,
    जब जहां से गए वहा से उस जहा को ही हिला दिया।
    ©aashvigupta

  • aashvigupta 82w

    साथी मेरे घर जाकर कुछ मत कहना, संकेतों में समझा देना।।

    माता अगर पूछे हाल मेरा, तो दो आंसू झलका देना,
    इतने पर भी न समझे तो जलता दीप बुझा देना।।

    बहना अगर पूछे हाल मेरा तो सूनी कलाई बता देना,
    इतने में भी न समझे तो राखी तोड़ दिखा देना।।

    पत्नी जो पूछे हाल मेरा तो अपना शीश झुका लेना,
    इतने में भी न समझे तो मांग सिंदूर मिटा देना ।।

    बेटा जो पूछे हाल मेरा तो प्यार से उसे सहला देना,
    इतने में भी न समझे तो सीने से उसे लगा लेना।।

    पापा जो पूछे हाल मेरा तो उनके हाथ सहला देना,
    इतने में भी न समझे तो लाठी तोड़ दिखा देना ।।

    भाई जो पूछे हाल मेरा तो सूनी राह दिखा देना,
    इतने में भी ना समझे तो उसे राष्ट्र धर्म बता देना ।।
    ©aashvigupta

  • machoboy 82w

    #READ_CAPTION.

    As the years pass down, don't know why some dates still stand with their thorns come out midway. Drowning in the plight of period my emotions still upholding the firmness of my belief. Though there is pain but there were always a hope and hope to deterge the soul of destiny.

    However, the determination losing its path to surmount affulence.Nevertheless, there is tiny pore in my heart to absorb the inferno to bestow the gratitude of love life. In the one and half or more than half years of their existence, however belief has come under scrutiny and optimism.There have been the usual taste of the trust of solemn Souls, and loveliness.

    In sum, the crucial role played by a human and the requirement of belief stability in a relationship committed to a 'culture of understanding' - strongly indicates that the relationships should be binding upon trust.

    #caption #Mirakee #23March

    Read More

    23 March!

    A hope is still around
    these pithless flowers in
    the form of the patient comrade.
    ©machoboy

  • yatharth_singh_chauhan 82w

    वतन परस्त

    वो खाक में नहीं वजूद में हैं,
    वो मरते नहीं शहीद होते हैं,
    ज़ुबाँ पे वंदे मातरम् लेकर जिनको,
    फांसी के निशां गरदन पे रसीद होते हैं,
    और कोई और परस्तिश क़ुबूल नहीं करते,
    वो जो वतन परस्ती के मुरीद होते हैं।
    ©yatharth_singh_chauhan

  • kainatmalik 82w

    اس بے رنگ اندھیری دنیا میں
    ایک رنگ بکھرا ہے پرچم کا��
    Just for the sake of this flag please stay at home
    Stay safe and pray for our forgiveness...
    #pakistan #stay_safe #quotes #mirakee #23march

    Read More

    .

  • ru_malik 82w

    भारत माता के वीर सपूतों को शत् शत् नमन
    Baghat Singh , Rajguru ,. Sukhdev
    ��������������������

    Maine apne maan k vichaaro ko parstut Kiya hai so agar.......
    Kisi ko buraa lge to Dil se maafi��chauangii



    #23march#shaeeddiwas#india#hindustan#indian

    Read More

    इंकलाब जिंदाबाद

    वे इंकलाब जिंदाबाद बोल क
    फांसी के फंदे न चूम क
    गले क लागे थे
    सच्ची देशभक्ति के होवे हैं या
    बात हमने समझा गे थे

    अपने देश खातर जन्म लिया है
    अपने देश के गौरव खातर मिट जाइवो
    या बात भी समझा गे थे

    प्यार मोहब्बत करो त
    अपने देश त करयो
    अपने देश का सिर शर्म त झुक जा
    इसा काम कदे ना करयो
    तुम देश के वीर सपूत हो
    या बात गांठ बांध क राखियों

    Baghat Singh , rajguru , sukhdev
    ये अपने देश ने फिर त
    सोने की चिड़िया बनाना चाहवे थे

    पर अफसोस होवे हैं देख क
    यो उनके सपनों का भारत कोना रहा
    यो तो बलात्कार , भृष्टाचार , चोरी - डकैती , खून - खराबे का
    देश हो रहा स

    सब इंसानियत न भूल क धर्म न
    आगे राखे हैं
    अर इब त अपना देश लोगां की गंदी सोच न
    खा राख्या है

    म्हारे ती ये अपनी जान न्यौछावर करगे
    पर म्हारे प यो ऋण चुकाया ना जाता
    म्हारे प पहले आला भारत लाया ना जाता
    पहले आला भारत लाया ना जाता


    ©ru_malik

  • _unavailable_ 120w

    तुझे कितना चाहने लगे हम ��
    #23march #love #mine

    Read More

    वज़ह चाहे जो भी हो
    बस वो मुलाक़ात याद आती है।

    तेरा खिलखिलाता चेहरा सोच
    मेरी वो मुस्कान लौट आती है ।
    ©_unavailable_

  • divine_love_words 134w

    मशान - कब्रिस्तान
    #23march #शहीददिवस #azadi #hindiwriters #hind #hks #hashj #shej #mrigtrishna #hindilekhan @panchdoot

    Read More

    आज़ादी

    शहीद लड़े कि भारत में इंसान रह सकें
    हम लड़ रहे कि अल्लाह और भगवान रह सकें!

    वो रंग गये खूं से पाक सरज़मीं
    कि तिरंगे में जान रह सके
    हम हरा और भगवा रंग रहे
    कि हिन्दू और मुसलमान रह सके!

    वो "मर" गये कि भविष्य में भी "हिंदुस्तान" रह सके
    हम "मार" रहे कि हर "ज़ात" का अपना "मशान" रह सके!

    -@शालिनी
    ©intoxicating_zinx_words

  • shwetamanpoetry 134w

    आज भी हम उन तारीखों से पूछे
    ज़र्रे ज़र्रे से निकली जुल्म की दास्ता को सुने
    लटक कर भी अमर हुए
    उन दीवानों से पूछे
    जम चुकी रक्त की नसों से पूछे
    भारत के स्वर्णिम इतिहास से पूछे
    एक होकर अपने आप से पूछे
    असली "आजादी" से पूछे
    हम आजाद है हम आजाद है।।।।
    ©shwetamank

  • machoboy 134w

    Special Date

    Rather than being my own heart
    I would love to be YOUR SOUL.
    ©machoboy

  • sandhu_anil 134w

    Bhagat Singh, Rajguru, Sukhdev

    Those three faces who sacrificed their life happily without any second thought.
    It was the spark ignited by them that further flamed the fire of independence.
    Their love to life was less and that to the nation was most.
    Respect and salute to those unnoticed faces also who struggled for the freedom.
    ©sandhu_anil

  • princesunnyrajput 134w

    23 मार्च 1931

    उच्चा सुनने वालो को तुमने बम से था दहलाया
    आजादी का नारा लेके देश आजाद करवाया
    23 मार्च 1931 का दिन आज फिरसे है आया
    सुखदेव भगत सिंह राजगुरु को देश ने था गवाया
    आपके बलिदानो को कोई ना भूल पाया
    समय बदला दौर बदला पर आप जैसा कोई नहीं आया
    कोटि कोटि परनाम आपको
    माँ के दूध का क़र्ज़
    अपने प्राणो को देके चुकाया
    ©princesunnyrajput

  • heymanu 134w

    चार पंकतियाँ उन्हें श्रदांजली नहीं दे सकती
    पर हम हर दिन उन्हें याद तो कर ही सकते हैं
    आज की तारीख के साथ यह शेर भी चला जाएगा पर
    उनके सपनों से देश को आबाद तो कर ही सकते है।

    ������
    #pod #poetry #gratitude #23March #bleedtheeyes
    #mirakee #mirakeeworld #writersnetwork

    Read More

    शमा ने परवाने से जलते रहने की कीमत पूछी
    मुस्कुराकर मिट्टी में वतन की सर अदब किया।
    बाली रवानी में सूझती है जब शरारत
    कुछ दीवानों ने मिटकर ये कैसा गज़ब किया

    मनु मिश्रा
    ©heymanu

  • hindi__poetry 134w

    23 March

    मोहब्बत को वो अपनी दफन कर बैठे,
    भारत मां के लिए खुद को कुर्बान कर बैठे।
    चहरे पे मुस्कान लिए दुनिया को अलविदा कहा बैठे,
    जाते जाते ना जाने कितने क्रांतिकरियों को जगा बैठे।।

    ~Nitish Kumar (NK)
    @nitish.poetry
    ©hindi__poetry

  • i_n_a_l 134w

    23 March

    Sarfroshi ki tamanna....

  • yapa73 134w

    मतवाले

    सरफ़रोशी का चिराग
    गुलामी के अँधेरे में जलाये
    इंकलाब के स्याही
    से आशा के पन्नों
    पे आज़ादी लिख़ने
    वाले मतवालों को शत् शत् नमन।
    ©yapa73

  • nishaat_12 134w

    On his martyrdom day
    A Tribute to a brave heart
    Who's persona is leftover in heart
    He is a legend
    Who lived life on his own
    With Inquilab zindabad slogans
    pride and courage in heart
    He Confronted death with smile

    He is a Man
    A legend who will never born again
    A person who's vision was freedom
    A person who's spirit was so high
    A man who is a perfect example
    To live great
    To live meaningful
    Is a life worth while

    He is a Man
    Who gave up his life and
    Left his words, wisdom,love, courage, sacrifice in our hearts for eternal life
    ©nishaat_12


    #bhagatsingh #23march #india #pride @mirakeeworld @mirakee #pod #ceesreposts @alluring_tulip @writersnetwork

    Read More

    Bhagat Singh

    On his martyrdom day
    A Tribute to a brave heart
    Who's persona is leftover in heart
    He is a legend
    Who lived life on his own
    With Inquilab zindabad slogans
    pride and courage in heart
    He Confronted death with smile

    He is a Man
    A legend who will never born again
    A person who's vision was freedom
    A person who's spirit was so high
    A man who is a perfect example