empty__heart

instagram.com/nirala254

...rememmmmmmber me ������

Grid View
List View
Reposts
  • empty__heart 5d

    ����

    Read More

    People don't realize this,
    But loneliness ---- it's underrated.

    -- 500 Days of Summer

  • empty__heart 1w

    हिज्र आये उससे पहले तूं लौट आये,
    ऐसे "ख़्वाब" वस्ल के, देखता हूं मैं!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    हिज्र आये उससे पहले तूं लौट आये,
    ऐसे "ख़्वाब" वस्ल के, देखता हूं मैं!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 1w

    ये अच्छा होता की हम सब अंधे होते,
    ज़िस्म थक चुका है बोझ उठाता हुआ!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    अपनी हसरतों को मिटाता हुआ,
    मैं बुझा ख़ुद को जलाता हुआ!

    समंदर चीर लेता है ख़ुद ही को,
    इक कश्ती को लहरों से बचाता हुआ!

    उसपे हंसता है ज़माना ये कहकर,
    वो रोया है वफ़ा निभाता हुआ!

    ये अच्छा होता की हम सब अंधे होते,
    ज़िस्म थक चुका है बोझ उठाता हुआ!

    जो तुझसे बिछड़े वो कहाँ आये 'गौतम',
    तूँ ही टूट गया सबको मनाता हुआ!

    मैं बुझा ख़ुद को जलाता हुआ!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 4w

    मैं उससे कोई गिला भला कैसे करूँ,
    ज़िन्दगी तो होगी ही ज़िन्दगी की तरह!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    आदमी नहीं लगते आदमी की तरह,
    रौशनी हो जाएगी तीरगी की तरह!

    अब हुस्न है और हुस्न की है तलब सब को,
    वो दिन गए जब सादगी थी तिश्नगी की तरह!

    वक़्त आ जाती है लौट कर वक़्त पर,
    दो जहां बिछड़ते हैं जब अजनबी की तरह!

    मुझे देखो मोहब्बत की हद देखो,
    मैंने चाहा उसे सांस आख़री की तरह!

    हमने निभाई है वफ़ा एक उसके लिए,
    किये ज़ुल्म हमपे जिसने दुश्मनी की तरह!

    मैं उससे कोई गिला भला कैसे करूँ,
    ज़िन्दगी तो होगी ही ज़िन्दगी की तरह!

    अब तेरा भी हो बस यहीं फ़साना 'गौतम',
    प्यार तूं भी करना मग़र दिल्लगी की तरह!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 6w

    तुम भी चले गए, ये अच्छा हुआ,
    मुझको नई आदत से डर लगता है!
    ����
    #She
    #empty__heart
    खलवत : एकांत
    सोहबत : साथ
    इशरत : ख़ुशी

    Read More

    अब मुझे हक़ीक़त से डर लगता है,
    अब मुझे मोहब्बत से डर लगता है!

    अब हम करते हैं खलवतों से बातें,
    की मुझको सोहबत से डर लगता है!

    मुझमें उदासी ही लगती है अच्छी,
    दो पल की इशरत से डर लगता है!

    मैंने यूँ देखे हैं सब मतलबी चेहरे,
    रूह की शराफ़त से डर लगता है!

    तुम भी चले गए, ये अच्छा हुआ,
    मुझको नई आदत से डर लगता है!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 8w

    ज़िन्दगी को हम ऐसे ठुकरा रहे हैं,
    के अंधेरों को हम गले लगा रहे हैं!
    ����
    #She
    #empty__heart
    ज़ब्त : मुट्ठी में, in control
    सोगवार : दुखी, sad

    Bella Ciao Bella Ciao Bella Ciao.....Ciao Ciao

    Read More

    ज़िन्दगी को हम ऐसे ठुकरा रहे हैं,
    के अंधेरों को हम गले लगा रहे हैं!

    हर रास्ता है ज़ब्त में आँधियों के,
    ये किन रासतों पे हम आ रहे हैं!

    हर रोज़ ख़ुद को सोगवार करके,
    रोज़ ख़ुद से, कहीं दूर जा रहे हैं!

    वो 'कौन' मर चुका है मेरे अंदर,
    किसका हम मातम मना रहे हैं!

    के अंधेरों को हम गले लगा रहे हैं!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 9w

    इश्क़ दर्द बेवफाई और ज़िंदा हैं!
    कुछ तो कमी मेरे समान में है!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    हम अपने दर्द के गुमान में हैं,
    हम मोहब्बत के अमान में हैं!

    मेरा ख़ुदा तो है ज़मीं पर ही,
    वो कौन है जो आसमान में है!

    उसकी आंखें सच बोलती है,
    नुख़्श कुछ मेरे ही ज़बान में है!

    इश्क़ दर्द बेवफाई और ज़िंदा हैं!
    कुछ तो कमी मेरे समान में है!

    जुदा हुए इश्क़ जावेदनी हो गयी,
    रहता गर एक ही इम्तेहान में है!

    सब कहते हैं उसे भूल जाओ गौतम,
    उसे भूल गए हैं जो आसमान में है!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 9w

    एक तेरा ही मौसम वापस क्यों नहीं आता,
    मैं देखता रहता हूँ के मौसम बदलते रहते हैं!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    ज़िस्म बुझ जाती है रूह जलते रहते हैं,
    हमें तुझे पाना है सोच कर चलते रहते हैं!

    मैं कई रातों से तुझे सोच कर सोया नहीं हूँ,
    सूरज ढलते रहते हैं चाँद निकलते रहते हैं!

    अब तेरा ग़म इतना है जाना कि देखो,
    मैं चुप हो जाता हूँ आंसू निकलते रहते हैं!

    एक तेरा ही मौसम वापस क्यों नहीं आता,
    मैं देखता रहता हूँ के मौसम बदलते रहते हैं!

    कई बार सोचते हैं के ख़ुद को मिटा दें क्या,
    ऐसे ही गिर गिर कर अब संभलते रहते हैं!

    हमें तुझे पाना है सोच कर चलते रहते हैं!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 9w

    तुझसे इश्क़ करना था मुश्किल लेकिन,
    तुझसे ज़ुदा होने जितना मुश्किल नहीं था!
    ����
    #She
    #empty__heart

    Read More

    मैं ही तेरे क़ाबिल नहीं था,
    मैं समंदर था साहिल नहीं था!

    मुझे छोड़ जाने वाले तुझे क्या मालूम,
    मेरे वास्ते और कोई दिल नहीं था!

    तुझसे इश्क़ करना था मुश्किल लेकिन,
    तुझसे ज़ुदा होने जितना मुश्किल नहीं था!

    ये कैसा राब्ता रहा हमारे दरमियाँ,
    ना जुदाई ना वस्ल ही क़ामिल नहीं था!

    'गौतम' ये कहते हुए मर जाएगा,
    मेरा यार मेरे क़त्ल में शामिल नहीं था!

    #She
    ©empty__heart

  • empty__heart 11w

    एक रोज़ वो हमसे पूछी, के तुम कैसे हो?
    हमने मुस्कुरा दिया ग़म बहाल कर!
    ����
    #She
    #empty__heart
    निढाल : helpless
    बहाल : जस का तस करना

    Read More

    चाहा तुझे ख़ुद को निढाल कर,
    ज़िस्म जाँ रूह निकाल कर!

    वो समझती है उसे भूल गए हम,
    हमने ख़ुशबू रक्खी है उसकी संभाल कर!

    ज़िन्दगी बहुत लंबी लगने लगी जब,
    वो गयी और कि बाहों में बाहें डाल कर!

    एक तुम हो जिसे अकेलापन नहीं चाहिए,
    हमने सब को ठुकराया तेरा ख़याल कर!

    एक रोज़ वो हमसे पूछी, के तुम कैसे हो?
    हमने मुस्कुरा दिया ग़म बहाल कर!

    ख़ुदा तूने किस ज़ुर्म की ये सज़ा दी है,
    'गौतम' चीख़ता है रोज़ ये सवाल कर!

    #She
    ©empty__heart