Grid View
List View
Reposts
  • dpkall9 1d

    ज्यादा समझना किसी को उतना ही नासमझ हो जाता है
    रिश्ते तो बनते है इतने मुश्किल से पानी की तरह ढह जाते है

    कभी धूप में सर्द की वो रोशनी लगती थी
    आज उदासी की वो शोक दिखी
    फक्र होता था मुझे जिनके चाहत से
    आज उनके आंखों में नफरत की आग दिखी

    कहते है न जब किस्मत में प्यार लिखा ही नही है अपने
    फिर क्यू इसके पीछे भागे....
    जब समझने वाला कोई हो ही नही हमे फिर क्यू भगवान से कोई हमदर्द मांगे.....

    सारी हदें तो पार कर दिए थे उनके इश्क को पाने के लिए
    जब वो हमें नासमझ कह गए तो कैसे कहे उन्हें भी हमे पाने का कस है......
    दिल की गहराई तक तो चाहता हूँ मैं ,मेरा इश्क ही गुमसुम रहता....
    मार के ख़ंजर खामोशी के चाह कर भी नही मिलता
    बड़ी अजीब है ये दिल की दासता ...चलो खुश रहना तुम ,हम तो अपना इंतकाम ले लिए लिख कर आंसू के स्याही से दिल को नीलाम कर गए।

  • dpkall9 1w

    दिल की ख्वाइश पथ्थर की नीचे दब जाते
    जब कोई अपना अपना कहने से घबराता

    क्या कहे इस बदनसीबी को , रहते हुए सारी खुशी
    लेकिन चेहरे पे आती नही , उदासी को लाती है

    बस अब तो थक सा गया हूँ खुद अपनी भार सहते सहते
    अब कोई इच्छा ही नही रह गयी जो पूरी करने को दिल करे

    मन भर गया है सारी बातों से ,लम्हे अब थक गई
    अब सब कुछ सुना सुना लगने लगी घर बाहर सब।।
    ©dpkall9

  • dpkall9 1w

    लाइफ में उन्ही लोगो से दूरी बनाए रहो
    जो बोलतें है मैं तो हमेशा तुम्हारे साथ रहूंगी
    चाहे सुख हो या चाहे दुख हो मैं हमेशा पास रहूंगी
    क्योकि इस प्रकार के लोग हमेशा साथ पहले ही छोड़ेंगे।
    ©dpkall9

  • dpkall9 3w

    मन नही भरता तेरी सुरीली नयन से
    तेरी style और तेरी चमन से
    बहका सा रहता हूँ तेरी प्यार की नगरी में
    हे प्रिये! तू है ही इतनी प्यारी, तेरी सुगन्धित सादकी से
    मन ही नही भरता तुझे कब तक बिन पलक झपके मैं देखता जाऊ
    तेरे माथे पर वो बिंदी , नाक की नथुनी मेरे दिल को छू जाती
    शर्मायी नजरें, ओठो की वो मुस्कान ,मेरे धड़कन को बढ़ा देती
    बेताबियाँ इतनी बढ़ा देती ,न देखू अगर तुमको बेचैन ,पागल बन जाता
    जी सकता हूँ जिंदगी भर तू दिखे बस कुछ पल ही, करे बातें कुछ पल ही, मान जाऊंगा अगर तू बस देखकर मुस्कुरा दे,भूल जाऊंगा गम अपना बस तू मुझे अपने ओठो से मेरा नाम ले।
    तेरे साथ जीने का फैसला है मेरा,बिखेरेंगे यही मुस्कान सदा तेरे ओठो पर,ये मेरा वादा रहेगा, जान बनकर रहना हे मेरी जान! काट लूंगा बड़ी सी बड़ी चुनौती जो जिदगी को कमजोर बनाएंगी ।
    आएगी रास्ते मे कितनी ही बड़ी मुसीबत हम मिलकर सामना करेंगे
    प्यार मिला रहे ऐसे ही तुम्हारा, देख लेना एक दिन तारो तक भी पहुच जाएंगे।
    होगी आपको भी फक्र मेरे इस कामयाबी से बस साथ रहे तू मेरी जान!हासिल कर लूंगा दुनिया की हर मुश्किल काम।

    Read More

    हे प्रिय!

    लिख चुका हूँ दिल मे अपने स्वर्ण अक्षरों से हे प्रिये! तेरा नाम
    होगी मुझे अपार प्रसनता तू जब पढ़ेगी मेरी पैगाम।

  • dpkall9 3w

    अपनी आदतों में रख्खा तुझे तू बहुत ही अनजान निकली
    इतना किया इश्क तुझे फिर भी तू तो बेगान निकली
    तू कोई हूर की परी तो थी नही जो तेरे लिये खुद को कुर्बान कर दू
    तेरे अंदर फालतू के जो 2 कौड़ी की घमंड है
    उसे अपने पास ही रख नही चाहिए ये तेरा इतराना
    रख उनको कल के लिए, जो होगा तेरा उन्ही से कहकर शौक़ मिटना
    लोग लाइन में मिलने के लिए तरसते है
    तू भूल गयी है आज मेरी औकात तुझे कल दिखाऊंगा
    रख थोड़ा सबर ,जो तू सोच रही वो दिन भी लाऊंगा

    बस तुझसे बात करने के लिए लोगो के नज़रो में चुतिया बना था
    अब हो किसी की औकात बात करके दिखाए
    नही चाहिए तू,और ये तेरा प्यार ।
    ©dpkall9

  • dpkall9 3w

    न रही साथ चलने की उमंग
    हर रोज तूने किया बहुत ही तंग
    रोज - रोज की यादों से परेशान हो गया था
    होगी बात अपनी इस आशा से ,न होने पर निराशा हो गया
    चुभती थी हमेशा एक सुई की तरह तू
    न कभी तुझे आयी ,ख्याल मेरा
    कल मरती थी तू, आज मैं मर रहा तेरे लिये
    ये सिलसिल मुझे बेचैन कर दिया
    होकर भी पूरा, मैं पूरा होके न जिया
    तेरे यादों में कितने पल मैं मरा
    तुझे मज़ाक सूझता था,यहाँ मेरी जान जाती थी
    तुझे टाइम ही नही मिला कभी दो लब्ज बाते करने के
    कैसा है रे तेरा प्यार,तू रह कैसे लेती है
    यहाँ रात भर मुझे नीद नही आती है
    तुझे खुद की स्टोरी में जीवन की रानी बना लिया था
    तू इतनी ना समझ थी कुछ समझी ही नही
    छोड़ अब तो फैसला ले ही लिया
    रह तू जैसे रहती थी,मैं भी अब फ्री होकर जीना चाहता हूँ
    नही चाहिए किसी का संग ,ख़ुद को अब थोड़ा रेस्ट देना चाहता हूँ
    बहुत हुआ ये फालतू के आशिकी अब तो शांती से सोना चाहता हूँ
    ©dpkall9

  • dpkall9 7w

    कोटा

    मस्त है ये गुलाबी शहर की दुनियां
    अनजान लोगों को भी पहचान दे जाती
    कितने उम्मीद लेकर आते है लोग
    इनमें कुछ सवर जाते कुछ अनुभव को बटोर के चले आते
    है अनोखी पहल इन रेत के बागियों में
    मेनहत कर रंग ला देती ,लोगो के चेहरे पर मुस्कान
    मिल जाती मंजिल ,मिल जाती हौसलो को उड़ान।
    ©dpkall9

  • dpkall9 8w

    Bewafai ki alam dekho jo kal kahate firate thakate hi nhi the
    Aaj vo khud ko ese najarband kar liya
    Chand ki jhalak bhi unke upar padane se ghabarati hai
    Vo kahati thi tum chale jaoge ek din in ankho se,vo khud hi ghum ho gayi in hawao ke bich aj tanhai is dil ko kar gayi
    Jo kal girati thi ansoo ,bas thodi si bato se aaj unka achanak gayab hona is dil ko majbur kar gya
    ©dpkall9

  • dpkall9 9w

    भारत माता की जय

    अपनो को कुछ आश दिए बैठे है
    जिनको अपनी जिम्मेदारी के एहसास दिए बैठे है
    हो न कुछ मेरे कामो में कोई गलती
    ये बड़ी कामयाबी का उल्लास दिए बैठे है
    जान रहेगी सीने में तब तक लड़ाई लड़ता रहूँगा
    मिल न जाऊ इस मिट्टी में तब तक कर्म को करता रहूंगा
    मिली है ये साँसे अपनो से इन सांसों को अपनो के लिए
    खर्च करता रहूंगा।

  • dpkall9 9w

    By unknown writer

    Read More

    Meri jagah kisi aur ko de dena tum
    Ye dil kisi aur ko bhech dena tum
    Kabhi kisi samay yaden bnke aunga
    Dil tera mujhme rhne dena tum
    Kuchh ho n sake to kuchh khne dene tum
    Isi khatir tujhe roj likhta hoo
    Milegi ander se aram mujhe
    Yhi soch ke teri story likhta hu mai.