d_shubh

तुझमें रब दिखता है

Grid View
List View
Reposts
  • d_shubh 2w

    तुम हो पास मेरे, साथ मेरे हो तुम यूँ
    जितना महसूस करूँ तुमको
    उतना ही पा भी लूँ
    तुम हो मेरे लिये, मेरे लिये हो तुम यूँ
    ख़ुद को मैं हार गया तुमको
    तुमको मैं जीता हूँ

    Read More

    खुले ये लब सुबह जब तो,
    इन लबों के वो पहले अल्फ़ाज़ तुम हो,
    रोज़ जो देखना चाहे ये आँखें,
    इन आँखों की वो मीठी प्यास तुम हो,
    तुम्हारी ही खुशबू से महके तन मन,
    हवाओं में यूँ मेरे साथ तुम हो,
    कभी हसाती कभी रुलाती यादें,
    उन यादों की वो प्यारी बात तुम हो,
    बीता हुआ पल मेरा आने वाला कल मेरा,
    मेरे हर आज और कल के एहसास में तुम हो,
    तुम हो...
    ©d_shubh

  • d_shubh 2w

    कोई भी ऐसा लम्हा नहीं है
    जिस में मेरे तू होता नहीं है
    मैं सो भी जाऊँ रातों में लेकिन
    तू है कि मुझमें सोता नहीं है

    Read More

    तेरी फिक्र में रात, यूँ ही ग़ुज़र जाती है
    रोती है तू, तो आँख मेरी भी भर आती है
    मुमकिन नही यूँ, तुझे तेरे हाल पे छोड़ देना
    धड़कन तेरे दिल की, मेरे दिल को धड़काती है
    ©d_shubh

  • d_shubh 4w

    न झूठी मेरी मोहब्बत है, न झूठा मेरा कोई वादा है,
    न तुम बिन कभी जिया हूँ मैं, न जीने का कोई इरादा है,
    ©d_shubh

    राम विवश मुख सिया निहारे
    क्षमा करो प्रिये दोष हमारे

    Read More

    माना गलतियाँ हज़ार की मैंने
    पर तुम्हे छोड़ किसी और को चाहा हो, तो कहना

    माना दूरियाँ कई बार की मैंने
    पर तुम्हे छोड़ किसी और को अपनाया हो, तो कहना

    माना दिल दुखाया मैंने
    पर तुम्हे रोता देख खुद आँसू न बहाया हो, तो कहना

    माना कुछ वक्त लगाया मैंने
    पर तुम्हे समझने का बेड़ा न उठाया हो, तो कहना

    माना दुख दिए तुम्हे मैंने
    पर तुम्हारी खुशियों को अपना न बनाया हो, तो कहना

    माना ज़िक्र न किया हो मैंने
    पर तुम्हारी फिक्र में दीया न जलाया हो, तो कहना

    माना तुमसे झगड़ा किया हो मैंने
    पर तुम्हे कभी प्यार से न मनाया हो, तो कहना

    माना कभी मन्दिर न देखी हो मैंने
    पर तुम्हारे लिए मस्जिद में खुदा को भी न मनाया हो, तो कहना
    ©d_shubh

  • d_shubh 4w

    To be continued....

    रब बंदे दी जात इको
    जीवे कपड़े दी जात है रूह
    कपड़े दे विच रूह है लुकीया
    किते विच बंदे दे तू

    Read More

    हैं बस यादें तुम्हारी तुम्हारा ही बस ख्याल है

    तुमसे ही है रातें मेरी तुमसे ही हर साल है

    दिलों में है नजदीकी गहरी बाहरी दूरी भी कमाल है

    समय का है खेल सारा किस्मत का मायाजाल है
    ©d_shubh

  • d_shubh 6w

    देश पे चढ़ा
    जाने कैसा ये बुखार है
    अब शहादत भी बस उसकी
    जिसका बड़ा कारोबार है
    आईने पे भी देखो
    शायद आई कोई दरार है
    दिखाता बस वही है
    जिसकी कीमत बेशुमार है
    @d_shubh
    #media

    Read More

    लोग चौदह
    चर्चा में,
    बड़ा ओहदा
    ©d_shubh

  • d_shubh 6w

    बिन तेरे...����
    न सुकून है, न चैन है, ना ही खुशियों का कहीं डेरा है,
    सूरज कितनी कोशिश करले, तुम बिन तो हर उजाला अँधेरा है...
    ©d_shubh

    Read More

    कुछ नही है मेरे पास,
    मन में बस एक कोना है,
    है घनघोर अँधेरा जहाँ,
    उसने रौशन तुमसे होना है...
    ©d_shubh

  • d_shubh 13w

    वक्त कुछ बेरुख सा है
    समय की अभी तलाश है
    कल कुछ मेरा काश था
    कुछ कल भी मेरा काश है
    ©d_shubh

  • d_shubh 28w

    Pyari veera��❤️,
    @beautiful_feelings
    Mai jaanta hu ki kuch tym se hum baaten kam aur ldai jyada krr rahe hain �� pr bhai behen mei chlta h y sbb ���� mai y bhi jaanta hu maine aapka bhut baar dil dukhaya aur aapne kabhi kuch kaha bhi nhi muje ...uske lie mai dil se maafi maangta hu aapse aur us hr ek baat k lie jisse aapko dukh hua drd hua takleef hui aur aage bhi kabhi kuch bhul se bhi dobara esa krun jisse aapka dil dukhe to uske lie bhi mujhe maaf krdena aur bss krte rehna����...aap bhut acche ho dil k bhut saaf ho���� hmesha ese hi rehna bhagwan ji aapko hrr buri njr se bachae aapki hmesha raksha kren aur apna aashirwaad aap pr hmesha bnae rakhen��������....wese to mene kl raat mei hi post krni thi ek post yahan prr mirakee updated nhi tha to wo post ho nhi paai fr update kia to jo photo chahie thi wo yahan aa nhi paai to wo mene whatsapp krdia...fr ntwrk bhi ni the aur phn bhi switch off ho gya to abhi krr raha hu y post ek��.....mai chahta hu aapko bhut saari khushiyan mile aur bhagwan ji se bhi yhi prarthna krunga ki aapko itni khushiyan den ki hr gam hr dukh hrr drd aapko chota lgne lge aur aap apna aur apne ghrwalon ka naam bhut roshan kro������������

    Mai hmesha se kehta aaya hu aap hum dono jese ho��... aur dil k saaf aur bhut hi acche ho y wali baat pehle wali baat se alg h,���� koshis krna ki aap bdlo nhi aur hmesha ese hi raho pr y bhi sch hai ki jyada acchai bhi thk nhi h islie kisi ko uss acchai ka faeda mt uthane dena kbhi����

    Last mei yhi kahunga ki

    मैं रहूँ या न रहूँ
    मैं तेरा ही वीर रहूँगा...

    Janmdin ki bhut sari badhaiyan aapka saara jeevan khushiyon bhara ho ��������������������������������������������......aapko dher saara pyaar aur yahan sbki trf se aashirwaad ❤️❤️������❤️❤️����������������❤️❤️����❤️❤️❤️❤️������������������������


    Sorry late wish krne k lie ��

    Read More

    ❤️Happy birthday veera❤️

    भूल भटक जाता हूँ मैं 
    तेरे टेडी मेडी गलियों में
    खुद को मैं बेरंग ही पाऊं 
    इन तेरे रंग रलियों में
    मैं तो हूँ एक हिस्सा तेरा
    मुझमे भी हे किस्सा तेरा 
    किस बंधन में बाँध  दिया रे
    मन ये मेरा अधीरा
    वीर  की अरदास वीरा 
    वीर की अरदास वीरा 

  • d_shubh 36w

    एक प्यार का नगमा है
    मौजों की रवानी है
    ज़िंदगी और कुछ भी नहीं
    तेरी मेरी कहानी है


    @divya100 tag krna rehgaya tha��
    दो पंक्ति में जो तुझको सारी बात बतानी है,
    जिंदगी और कुछ भी नही तेरी मेरी कहानी है...

    Read More

    Arey Happy se bhi happyyyyyy wala
    b'dday to you Divya Sharma
    ji .......May god always bless uh and
    give you whatever you want......May
    your this bday fulfil all your
    wishes......May you live a
    happy, healthy and a wealthy life.......
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .

    with me you know
    Aap jiyo hzaaaaroooo saal yr....Always
    be happy.......keep smiling

  • d_shubh 83w

    मैंने देखा है, वर्तमान में बच्चे अपने माता पिता को बहुत कष्ट देते हैं। जब बच्चे बड़े हो जाते हैं (केवल शरीर से), वो अपने माता पिता को बिना सोचे समझे कुछ भी कहने लगते हैं। वो अपनी मनमानी करने लगते हैं, और इतना ही नही उनकी आज्ञा की अवहेलना भी करते हैं। एक उम्र के बाद वो उनका आदर सत्कार करना भी भूल जाते है, और उन्हें बोझ समझ कर वृद्ध आश्रम छोड़ आते हैं। वो भूल जाते हैं, कि उनके माता पिता ने कितने कष्ट उठाकर उन्हें पाला है, कितना स्नेह और प्यार दिया है उन्हें। वृद्धावस्था में ही उन्हें हमारी सबसे ज्यादा जरूरत होती है, यही वक्त होता है जब हम उनके लिए कुछ कर सकते है, क्योंकि सारी जिंदगी वो हमारे लिए करते आए हैं। आप सभी बहुत भाग्यशाली है जिन्हें माता पिता का सुख प्रदान हुआ है, तो कृपया पूरे प्रेम स्नेह और आदर से उनके साथ रहिए, कामयाबी और खुशियाँ सदैव आपके कदम चूमेगी।����

    ये पंक्तियाँ कहीं पढ़ी थी, बात गहरी और सत्य है, तो आप सभी संग साँझा कर रहा हूँ।����
    ����������������������������������
    माँ-बाप की कमी को कोई बाँट नहीं सकता,
    और ईश्वर भी इनके आशिषों को काट नहीं सकता,

    विश्व में किसी भी देवता का स्थान दूजा है,
    माँ-बाप की सेवा ही सबसे बडी पूजा है,

    विश्व में किसी भी तीर्थ की यात्रा व्यर्थ हैं,
    यदि बेटे के होते माँ-बाप असमर्थ हैं,

    वो खुशनसीब हैं माँ-बाप जिनके साथ होते हैं,
    क्योंकि माँ-बाप के आशिषों के हाथ हज़ारों हाथ होते हैं।
    ����������������������������������

    Hamesha se kuch likhna chahta tha pita ki mahaanta pr mgr kbhi kuch likh nahi paaya aaj thoda bhut kuch likha hai to apne vichar jrur rakhiega����

    NOTE: Post kaafi lambi ho gai hai mgr pura jrur padhiega caption k sath aur apne vichar jrur saajha kijiega
    ����

    Read More

    वही जो...

    जो हमें चलना सिखाता है,
    जो नए नए खिलौने दिलाता है,
    जो बाज़ार में चाट खिलाता है,
    वो जो मेलों में घुमाता है,
    हाँ, वही जो हमे झूला झुलाता है..

    जो हमें स्कूल में दाखिला दिलवाता है,
    जो हमे छुट्टी में टॉफी खिलाता है,
    जो हमें भला बुरा सिखाता है,
    वो जो हमें हर बुरी नजर से बचाता है,
    हाँ, वही जो हमारे थकने पर अपने कंधों पर बिठाता है...

    जो हमें सही रास्ता दिखाता है,
    जो अच्छा करने पर दुलार जताता है,
    जो कभी कभी थप्पड़ भी लगाता है,
    वो जो रुलाने के बाद हँसाने भी आता है,
    हाँ, वही जो हमारी ख्वाहिशों का विमान उड़ाता है...

    जो नौकरी पे जाता है,
    जो घर के लिए राशन लाता है,
    जो खून पसीना एक कर रुपये कमाता है,
    वो जो माँ का हर हाल में साथ निभाता है,
    हाँ, वही जो अपने परिवार की खुशियाँ चाहता है...

    जो मुखिया होने का फर्ज निभाता है,
    जो अपनी थकान हर किसी से छुपाता है,
    जो हर दर्द में मुस्कुराता है,
    वो जो बस प्यार लुटाता है,
    हाँ, वही जो बाहर की दुनिया से लड़ कर आता है...

    जो हमारे लिए अपने सपने दबाता है,
    जो हमारे लिए अपनी ख्वाहिशें मार जाता है,
    जो हमें पढ़ा लिखा कर काबिल बनाता है,
    वो जो हमारी नौकरी लगवाता है,
    हाँ, वही जो परिवार का सारा खर्चा उठाता है...

    जो घर की जान कहलाता है,
    जो हमारे लिए रिश्ते ढूँढ़ लाता है,
    जो हमारी शादी करवाता है,
    वो जो उस दिन सबको नाचाता है,
    हाँ, वही जो बेटी की विदाई पे सबसे आँसूं छुपाता है...

    जो इतने कर्तव्य निभाता है,
    जो जाने कितने दर्द छुपाता है,
    जो माँ की माँग भर जाता है,
    वो जो ऐसी दृढ़ता दिखाता है,
    हाँ, ये वही है जो पिता कहलाता है...
    ©d_shubh