Grid View
List View
Reposts
  • chouhanmamta 3d

    राधा ने श्री कृष्ण से पूछा
    प्यार का असली मतलब क्या होता है?
    श्री कृष्णा ने हँस कर कहा,
    जहाँ मतलब होता है,
    वहाँ प्यार ही कहा होता है।
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 1w

    ❤तू है वो एहसास मेरा,
    लफ़्ज़ों में ना भर सकूं,

    कह सकूं, ना लिख सकूं,
    मैं कुछ बयां ना कर सकूं।

    किस तरह से मैं कहूँ के तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    ज़िंदगी तू, बंदगी तू,
    तू दुआ जरूरत है,

    रहनुमा रहमान सी,
    मेरी रूह में आबाद है।

    किस तरहा से मैं कहूँ के तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    हूर से बेहतर कहूँ,
    कोहनूर से भी कीमती,

    तू ही महफ़िल, तू ही मंजिल ,
    तू ही जश्ने-ज़िंदगी।

    किस तरहा से मैं कहूँ के तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    तू ही ताकत, तू ही बरकत,
    तू ही दौलत है मेरी,

    सांस तू है, तू है धड़कन,
    तू ही तो आदत मेरी,

    किस तरहा से मैं कहूँ के तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    तू मुहब्बत इश्क मेरा,
    तू इबादत है मेरी,

    सच कहूँ तो, ज़िंदगी को,
    बस जरूरत है तेरी।

    किस तरहा से मैं कहूँ कि तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    तू सुकूं है, तू ही राहत,
    तू तसल्ली है मेरी,

    तू मेरा अरमान, मेरी शान,
    तू किस्मत मेरी।

    किस तरहा से मैं कहूँ कि तू,
    क्या है मेरे वास्ते।

    तू ही तो मंजिल है मेरी,
    तुझ तलक मेरे रास्ते,

    तू खुदाई नूर सा एहसास,
    मेरे वास्ते।

    किस तरहा से मैं कहूँ कि तू,
    क्या है मेरे वास्ते।।
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 2w

    दूर देश में चांद मेरा क्यूं उदास है,
    तू दूर ही सही तेरा दिल तो मेरे पास है,

    बांधा है तुझे प्यार की रेशम डोर से,
    तू दूर ही सही तेरे वफा की खुश्बू मेरे पास हैं,

    हवा की झोकों में छुवन तुम्हारी,
    तू दूर सही पर तेरा अहसास मेरे साथ हैं,

    याद तुझे करुं बन जाये शायरी,
    तू दूर सही यादों में ढले तेरे अलफाज मेरे पास है,

    रात ढले ऐ चांद तुझे देखूं छुप छुप के...
    तेरे नूर में बिखरी चांदनी रात मेरे अक्स पे आज है..
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 4w

    Ladki - Itna pyar kyu karte ho mujhse..
    Karan - Kyu ki tum meri zindagi ho u are my life..
    Ladki - Agar mai nahi mili to..
    Karan - Ya to Mai pagal ho jaaunga ya mai mar jaaunga..
    Ladki - Chup pagal khuch bhi bol dete ho ..
    Achha life mai kya sapna hai aapka..
    Karan - Jb mout aaye to tumhari
    baho me aaye..
    Ladki - Ek dam pagal ho aap..
    1 week baad
    ek din achhank wo ladki us Karan name ke ladke ko
    call karti hai..
    but call us karan ka dost uthata hai..
    Ladki - Karan kaha hai..
    Karan ka dost - Apni gf ke sath..
    Ladki - Shok ho jati hai aur phone kat
    deti hai..usi din raat ko wo Karan us
    ladki ko call karta hai..
    Karan - Kya kar rahi ho jaan..
    Ladki - Mat bolo mujhe jaan aaj ke
    baad call mat karna..
    Ladkiitaraf
    se koshish karta hai us ladki se baat
    karne ki but wo uski ek nahi sunti..
    Karan ka dost us ladki se roz naye naye
    bahano se usse baat karta hai aur usse
    friendship kar leta hai
    7 mahine baad..
    Karan ka dost - Main tumse pyar karta hu i love u..
    Ladki - But mai sirf usi .se pyar karti
    hoon bhale hi usne mujhe dhoka diya ho..
    Karan ka dost - Gussa ho jata hai aur
    kaheta hai maine tumhe pane ke liye kya
    khuch nahi kiya tumse jhuth bola ki mera
    dost kisi aur se pyar karta hai.. wo sirf
    tumse pyar karta hai..
    Ladki - What..Ladki us akash ko thppad
    marti hai..
    Ladki - I hate u smjhe dikhna bhi nhi
    mujhe aaj ke baad..Ladki apne Karan ke
    ghar jati hai but tb tk wo karan apni
    chand saanse le raha hota hai..
    Ladki - Sorry jaan plz mujhe maf kar do..
    Karan - Rona mat plz dekho mera sapna
    pura ho gaya tumhari baho mai marne ka itna kah kar wo dam tod deta hai aur ladki foot foot ke rone lagti hai.....

    Kabhi bhi kisi aur ki bato mai aakar apne pyar
    par shaq karna bewkufi hai....

    Moral: ( प्यार करते हो तो अपने लाइफ पार्टनर पर यकीन करो किसी और के होने पर अपने लाइफ पार्टनर को मत छोड़ दो हर लड़का और लड़की जिस्म देह नहीं दिल से प्यार करते है तो फीलिंग का मजाक मत बनाओ......
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 8w

    हर कोई तुमसा ख़ास नहीं होता,
    जो ख़ास होता है वो कभी पास नहीं होता,
    यकीन ना आये तो चाँद को ही देखो,
    जिसके दूर होते हुए भी दूरी का एहसास नहीं होता |
    जब कोई इतना खास बन जाए,
    उसके बारे मे ही सोचना एहसास बन जाए,
    तो माँग लेना खुदा से उसे ज़िंदगी के लिए,
    इससे पहले के वो किसी ओर की साँस बन जाए.
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 8w

    दिल की धड़कन ओर मेरी सदा है तू.....
    मेरी पहली ओर आख़री वफ़ा है तू.....
    चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़कर....
    मेरी चाहत ओर चाहत की इंतहा है तू....
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 8w

    पत्नी, प्रमिका,

    अक्सर पुरूष हैरान रहते हैं कि प्रेमिका इतनी स्वीट और पत्नी इतनी खड़ूस क्यों होती है....?
    तो सुनो-
    बारिश में प्रेमिका को उधार की बाईक और रूपया मांगकर भी लांग ड्राइव पर ले जाते हो
    लेकिन पत्नी के आते ही अमीर हो जाने पर भी उससे बारिश होने पर चाय पकौड़ी बनवाना ही याद आता है.....

    थकी- हारी पत्नी नहीं कह देती है तो तुम्हारे अहम को इतनी चोट लगती है कि सुबह तक मुंह फुलाए घूमते हो.......
    लेकिन प्रेमिका के आगे 365 दिन भी गिड़गिड़ाने पर कुछ़ हासिल नहीं हो तो भी संस्कार समझकर उस पर और प्यार लुटाते हो और मान- मुनव्वल शुरू कर देते हो

    प्रेमिका को पार्क, रैस्टोरेंट,रिसोर्ट...सुंदर से सुंदर और खर्चीली जगह ले जाते हो.....
    लेकिन पत्नी के आते ही उसे मुंडन,जनेऊ,विवाह,पूजा- पाठ,बीमार की सेवा,श्रद्धांजलि सभा में ... सारी ज़िम्मेदारी निभाने के लिए ले जाते हो...

    प्रेमिका को सर से पांव तक घूरते रहने में आंखें नहीं थकती और हर इंच और हर मौके के लिए शायराना अंदाज रहता है.....
    लेकिन पत्नी के लिए शिकायत - कितना देर लगाती हो तैयार होने में......

    प्रेमिका का फ़ोन चौबीस घ॔टे में चौबीस बार भी आए तो वो "प्यार" लगता है.......
    लेकिन पत्नी का दिन में दो बार फ़ोन इन्क्वायरी लगने लगता है....
    अपने भले अपने मां- बाप की सेवा नहीं किए होंगे लेकिन पत्नी से यही उम्मीद होती है कि वो चौबीस घंटे उसके पूरे परिवार के सेवा में गुजरे...,

    कड़वा है पर सच है...
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 9w

    मेरे साथ होने के लिए, मेरी कोई शर्त नहीं है... तय तो तुम्हे करना है, की तुम्हारी जिंदगी में मेरी एहमियत कितनी है...!
    ©chouhanmamta

  • chouhanmamta 9w

    कागा सब तन खाइयो,
    चुन चुन खइयो मास,
    दो नैना मत खाइयो,
    जिन पिया मिलन की आस,

  • chouhanmamta 10w

    जब खामोश आँखो से बात होती है
    ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है
    तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं
    पता नही कब दिन और कब रात होती है……..
    मुस्कुराते पलको पे सनम चले आते हैं,
    आप क्या जानो कहाँ से हमारे गम आते हैं,
    आज भी उस मोड़ पर खड़े हैं,
    जहाँ किसी ने कहा था,कि ठहरो हम अभी आते हैं……….
    मेरे वजूद मे काश तू उतर जाए
    मे देखु आईना ओर तू नज़र आए,
    तू हो सामने और वक़्त ठहर जाए,
    ये ज़िंदगी तुझे यू ही देखते हुए गुज़र जाए..
    ©chouhanmamta