Grid View
List View
Reposts
  • bhawna__ 2w

    Remember, Remember not to miss
    but Remember.
    ©bhawna__

  • bhawna__ 22w

    I would have taken it,
    but risks were too free,
    and I was inside a drop,
    thinking of air to resonate,
    but air never dissolves into water,
    it just makes spaces,
    I was at risk to be shattered
    stuck inside the drop
    and then drop became drops,
    I became many.
    ©bhawna__

  • bhawna__ 22w

    मुलाकात ।

    इस शायराना मिज़ाज में मुलाकात कुछ बेमतलबी है,
    छोटे-छोटे कदम ही तो तेरी चाहत को समेटे है इतमिनान से।।

    पहली मुलाकात जान-पहचान वाली थी, और सुकून वाली ।
    अनजान दूसरी थी और सवालों से भरी और बेपरवाही बेचैनी भरी।।

    आख़िरी मुलाक़ात का खयाल सबसे खूबसूरत होता है,
    और बची बाकी की मुलाकातें, वो सब तो खवाबों की धुन में बनावटी मिट्टी सी है ।।

    हर रोज मुलाकात होती है, बस तबियत थोड़ी खराब रहती है ।
    मरहम जैसे मुलाकातों के पन्नों में स्याही तुम्हारे कदमों जैसे सब जवाबों को पनाह दे देतीं है ।।

    एक मुलाकात चाय वाली और एक वक्त वाली,
    सब मुलाकातों में वक्त बदनाम था बेचारा।
    और फिर बेचारा बोलकर खुद को महान,
    मुलाकात उदास थी पर वो बिना गिने सबसे खास थी ।।
    ©bhawna__

  • bhawna__ 64w

    "I'm still having the footprints of that fear.
    I'm still afraid of your suffocating tears.
    I'm still searching for your dusty smile
    that genuinely cheers."
    ©bhawna__

  • bhawna__ 65w

    Sometimes in the process
    of becoming the most sober,
    we abode the devil inside us.
    ©bhawna__

  • bhawna__ 65w

    .

  • bhawna__ 65w

    शा य रा

    इश्क की इजाज़त ना दे पाए,
    तो हमारी ही आँखों को इश्क कह दिया।।
    पर वो ख़फा अब भी है हमसे,
    हमसे मोहब्बत करने की रंजिसे नहीं है ,
    पर वो बेखबर अब भी है सुबहों से।।

    इस बेरंग सी दुनिया से अलविदा हमें भी कहना था,
    पर उन्हें, दर्द देकर जा रहा हूँ, हमसे ये कहने की आरज़ू है,
    धुंधली सी यादों में ।।

    आज फिर से सुबह हुई है,
    क्या पता इश्क आँसुओ में डूबा है,
    या अंधेरो में रोशनी से छुपा सा।।

    पर आंखें मिलाकर अपने इश्क से,
    अभी नींद की गहरी सी वादियों में,
    मुझे सपने देखने से भी तो बस मोहब्बत ही करनी है।।

    वो खुश रहो बस ऐसे दुआ देकर,
    कह गए कि तुम सलामत रहो।।
    हमारी जान मुट्ठी में समेटे,
    और कह गए कि अब जी कर दिखाओ।।

    आँखों का इश्क, नींद और आंसू
    सब साथ ले गए,
    अब बताओ इश्क बेरंग ना हुआ भला?!

    बेरुखी तो नहीं है ना ये ?
    सादगी बोल देंगे,,,
    दिल बहल जाएगा
    फि से।।

    हाँ हम संभल जाएंगे फिर से,
    तुम फिर से इश्क कहने लगो
    हमारी आँखों को।।
    और उनके रंग बन जाओ।।

    तुम फिर से लिखने लगो हमारी बातों को,
    एक बार फिर से शायर बन जाओ।।

    बस एक बार
    अभी की सुबहों के लिए,

    बस बार-बार,
    इश्क ही तो है ना।।

    -bhawna__
    --------------------------------------------------------------------------
    Written on 12th of october ...
    Kabhi baton baton me ek kch alfaaz banaye the,
    Jo kehna na tha vo uljhano ko sajane ke liy,
    Mai kabhi kabhi shayari nahi karti
    Ek din yuhi par,
    Haan shayara hu mai nayi nayi..
    Wah! Mai Shayara ban gayi ������ :p
    ciao__

    #humblebee #pandapages
    #writersnetwork
    #writersbay #pastpearlsc #poem #poetry #shayari
    @mirakee #hindishayari #hindipoetry
    #creativearena
    October 25,2020.

    Read More

    शायरा

    तुम फिर से लिखने लगो हमारी बातों को,
    एक बार फिर से शायर बन जाओ।।
    ©bhawna__

  • bhawna__ 65w

    रज के रुलाया,
    रज के हँसाया,

  • bhawna__ 65w

    #artquill

    Once I did a lot of sketch..
    But I don't have any of them rn :p

    Read More

    ~

  • bhawna__ 65w

    PABLO PICASSO
    Spanish painter and sculptor,
    Was born in 1881, (25 October),

    Completed his first painting at the age of 9
    *Li picador, a man riding a horse in a bullfight

    Produced about 13,500 paintings, 100,000 prints and engravings, 30p sculptures and ceramics and 34,000 illustrations in his 78-year career
    ----------------------
    Known for co-founding the CUBIST MOVEMENT, the invention of constructed sculpture and the co-invention of collage among others...

    #artquill

    Read More

    THE PIONEER OF CUBISM

    "The purpose os art is washing the dust of daily life off our souls."