Grid View
List View
Reposts
  • atulmehpa 117w

    आजकल देश में थोड़ी स्थिरता है लेकिन लोगो के मन में नहीं लगती। दुनियां भारत को सम्मान दे रही है लेकिन कुछ लोग अंदर ही अंदर आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन कुछ कर नहीं पा रहे क्योंकि सरकार उनकी नहीं है जो देश को जेब में लेकर घूमते थे। ये लोग अंदर ही अंदर पाकिस्तानियों का समर्थन भी कर रहे हैं
    और मुद्दा क्या है कश्मीर
    पता नहीं इन्हे क्या मिल रहा है ऐसा करके और क्या मिलेगा। जब कश्मीर उनका है ही नहीं तो ये आग क्यों फैलाई जा रही है और अगर इतनी ही हमदर्दी है उनके लिए तो क्यों नहीं आ रहे घर से बाहर निकलकर, शायद डर लगता है। यहां लिखकर, किसी को बोलकर, किसी को समर्थन देकर क्या सोच रहे हो कश्मीर लेलोगे।

    गलतफहमी में मत रहना कि देश के खिलाफ बोलकर या किसी को समर्थन देकर तुम जैसे लोग इस देश में अशांति फैला सकते हो या बोलने की आजादी कहकर कुछ भी बोल दोगे। अगर कोई देशभक्त फिर सबक सिखा देगा तो ये मत कहना कि हमपर जुल्म हो गया।

    अगर इतनी ही देशभक्ति है तो किसी बेटी की इज्जत लुट जाने पर क्यों मोमबत्तियां लेकर चुपचाप खड़े रहते हो?
    क्यों तब नहीं बोले जब कश्मीरी पंडितों को वहां से भगाया गया था?
    उनकी बहू बेटियों की इज्ज़त लूटी गई थी क्या तब नादान थे तुम लोग?
    क्या दिखाई नहीं देता कि देश में अपने ही लोग फुटपाथ पर रहते हैं, वहीं सोते है और मर भी वहीं जाते हैं?
    क्यों किसी गरीब के लिए नहीं बोलते?
    क्या इतिहास नहीं जानते कश्मीर का, इस भारत देश का?
    जानोगे भी कैसे तुम्हारे घर से थोड़े ही कुछ जा रहा है?
    तुम्हे आजादी मिली लेकिन गद्दारी करनी नहीं भूले तुम लोग।
    ये ठीक वैसा ही हो रहा है जैसे कोई नया राजा आकर कुछ बेहतर करता हो और कुछ दोगले लोग मौका ढूंढ़ते हो उसे नीचे गिराने का।
    खैर तुम्हारी खुशी के लिए कहना चाहता हूं कि तुम कितनी भी कोशिश कर लो कुछ नहीं कर पाओगे ये देश सदियों से था, है और रहेगा।

    आज किसी को भी टैग नहीं कर रहा हूं शायद किसी को अच्छा ना लगे, देशभक्तों का स्वागत है����������
    जल्दी ही पढूंगा सभी की पोस्ट।

    Read More

    अखंड भारत

    एक मोदी या सरकार को गाली देने से कुछ नहीं होगा
    ये देशभक्तों की वजह से संभव हुआ है
    हर वो हाथ काटकर गिरा दिया जाएगा
    जिसने भारत माता के दामन को छुआ है

    दम है तो घर से बाहर निकलो पाकिस्तानियों का समर्थन करने वालो
    मिट्टी भी नसीब नहीं होगी इस देश की दफन होने के लिए
    और याद रखना अगर कोशिश भी की इस देश के साथ गद्दारी करने की
    तो कोई आगे नहीं आएगा तुम्हे कफ़न देने के लिए

    भीख में मिले पाकिस्तान को अब एक देश समझना छोड़ दो
    ये भारत अब अपनी भुजाएं फिर से फैलाएगा
    तुम जहां तक मदद मांग सकते हो मांग लो
    कश्मीर के लिए क्यों रोते हो, अब पाकिस्तान का
    नामोनिशान मिटाया जाएगा

    ये धरती हमारी है, ये आसमान हमारा है
    जहां तक फैला था देश मेरा,
    उस छोर तक का हर मकान हमारा है
    झुक जाएगा किसी के सामने देश मेरा
    ये सोचने की भूल मत करना
    औकात दिखा दे दुश्मन को मिनटों में
    ये हिंदुस्तान हमारा है
    ये हिंदुस्तान हमारा है
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 118w

    Mirakee परिवार के सभी सदस्यों से माफी चाहूंगा कि काम में व्यस्त होने के कारण आजकल लिख नहीं पा रहा हूं और आपकी रचनाएं भी कम ही पढ़ पा रहा हूं। कुछ समय और ऐसे ही चलेगा तबतक याद रखना जल्दी ही लिखूंगा��������

    @manav_9 भाई जी @anjali_chopra बहन आपकी पंक्तियों को आगे बढ़ाया है, देख लीजिए

    Read More

    चांदनी रात हो
    तू मेरे साथ हो
    बिन मौसम बरसात हो
    और भीगे भीगे से जज्बात हो
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 119w

    आज रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस दोनों एक ही साथ थे।
    सबने बड़े ही हर्षोल्लास के साथ दोनों त्यौहार मनाए और भाइयों ने बहनों को बहुत से उपहार दिए होंगे उनकी सुरक्षा के वादे के साथ।

    लेकिन एक बहन जो कुछ अलग ही उपहार चाहती है अपने भाई से कुछ वही सोच कर लिखा है।

    #Bandhan_LS_chal
    @laughing_soul मैम आपके चैलेंज के लिए लिखा है उम्मीद है आपको पसंद आए।
    @manav_9 भाई जी आपका बहुत बहुत आभार जो आपकी वजह से ये लिख पाया

    Read More

    बहन - भाई

    तू वीर है, तू चट्टान है, तू मेरा अभिमान है
    कर इज्जत दूसरे की बहू बेटियों की,
    वही मेरा सम्मान है

    ना तू देख गलत
    ना तू सोच गलत
    कर इज्जत तू हर नार की
    कर सेवा, जगा देशभक्ति
    तुझे हर खुशी मिलेगी संसार की

    तू बेशक ना हो सीमा पर
    पर इस देश का जवान है
    तू जज्बा सच्चा रख अपना
    तुझमें भी इस देश की जान है

    तू रख अपना हौंसला ऊंचा
    मेरी राखी का तू मान रख
    कोई तेरे जैसा भाई किसी का खड़ा है सीमा पर
    इस बात का भी तू ध्यान रख

    इस मिट्टी, इस धरती मां का क़र्ज़ चुकाना है तुझे
    इस संस्कृति इस इतिहास को बचाकर रख
    क्या पता कब ये धरती मां पुकार के तुझे
    थोड़ी सी आग इस जिगर में जलाकर रख

    तोहफे में हर बहन की रक्षा का वादा कर
    इस देश की सुरक्षा का इरादा कर
    मत बैठ किसी फरिश्ते के भरोसे भाई
    तू अपनी औकात से थोड़ा ज्यादा कर

    तू जी इस देश के लिए, इस तिरंगे के लिए
    तेरी कलाई कभी सूनी नहीं रहेगी
    तू अगर खड़ा रहेगा किसी बहन के लिए हरदम
    वादा है मेरा तेरी कोई बहन गूंगी नहीं रहेगी

    तू वीर है, चट्टान है, तू मेरा अभिमान है
    कर इज्जत दूसरे की बहू बेटियों की
    वही मेरा सम्मान है।
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 119w

    आज दिन बहुत खास है रक्षाबंधन का और साथ ही स्वतंत्रता दिवस भी है। दोनों ही बेहद खास पहले यहां mirakee पर सभी बहनों को जो मुझसे बड़ी हैं और कुछ छोटी भी हैं सभी को रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएं������

    ये कविता 5 साल पहले मैंने मुंबई में लिखी थी किसी के लिए लेकिन भेज नहीं पाया था और ये मेरे पास अब तक यूहीं मेरी डायरी में बिना शीर्षक के बंद रही। आज जिसके लिए लिखी थी उन्हें भी भेज दी है और यहां बने भाई बहन के एक अनमोल रिश्ते को भी ये कविता समर्पित करता हूं।

    मेरी इस रचना को शीर्षक दिया है मेरे प्यारे छोटे भाई sh_gopal ने

    आप यहां किसी को भी टैग कर सकते हैं।

    सबसे पहले यहां बहन बनी @krati_mandloi
    फिर #anitya दीदी
    और फिर एक छोटी सी नौक झोंक के बाद @archana_tiwari_tanuja दीदी
    और फिर ये सिलसिला चलता रहा
    @diptianupam दीदी @amanpreet_kaur बहन
    @raaj_kalam_ka दीदी आज आपका जन्मदिन भी है
    @amritsagar दीदी
    @sonia_choudhary @diksha_chaudhary @anjali_chopra @sampriti2312

    Read More

    मेरी प्यारी बहना

    माँ बाप की आँखों का तारा हो तुम
    जो उनको दे सुकून वो सहारा हो तुम
    माँ बाप का एक अनमोल गहना हो तुम
    पर सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम

    जिसके आने से चेहरों पर रौनक आ जाती है
    घर आँगन में जैसे खुशियां छा जाती हैं
    सब लोगों का यही कहना हो तुम
    पर सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम

    अपनी जिंदगी की सभी ऊंचाइयों को तुम छूलो
    उस सूरज को छूलो, परछाइयों को तुम छूलो
    इस जहाँ में कहीं भी रहना हो तुम
    पर सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम

    कांटें खुद तुम्हारी राहों से हट जाएं
    कभी ऑंसू ना तुम्हारी आंखों में आएं
    जिंदगी में ना कोई दुःख सहना हो तुम
    क्योंकि सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम

    अब जिनकी तुम हो उनका ख्याल तुम रखना
    जो टूटे ना कभी वो रिश्ता बरकरार तुम रखना
    क्योंकि किसी के दिन और रैना हो तुम
    पर सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम

    हम क्या तोहफा भेजे आपको
    तोहफे तो सिर्फ सुकून देते हैं
    पर खुशियों का एक खजाना हो तुम
    क्योंकि सबसे प्यारी हमारी बहना हो तुम
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 120w

    भरोसा गर है तुम्हें खुद पर तो
    ऊपर वाला हर मुश्किल से निकाल ही लेगा

    मुस्कुराहट रखिए हमेशा चेहरे पर अपने
    कभी गिराने वाला ही तुम्हें संभाल भी लेगा

    तुम कोई पेड़ लगाओ तो सही गम या खुशी का
    कोई तो सावन उन्हें पाल ही लेगा

    कम दे या ज्यादा पर मगर
    बड़ा हो गया तो फल तुम्हें हर साल ही देगा

    कुछ सही ना करो तो कुछ गलत भी मत करना कभी
    कोई तो तुम्हारी शराफत की मिसाल भी देगा

    और ये जो जिंदगी मिली है इसे तमीज से जीलो
    तुम्हारा बुढ़ापा तुम्हें अतीत के सवाल ही देगा

    गर दम हो जुदाई सहने का तो ही इश्क़ करना
    ये धुंधली यादें, कुछ बेवक्त ख्याल ही देगा
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 121w

    दोस्त, एक अनमोल तोहफा
    दोस्ती एक नायाब मंजिल
    ये हो तो जिंदगी हसीन हो जाती है
    रंगीन हो जाती है

    आज अपने बचपन से कॉलेज टाइम तक के दोस्तो के लिए ये कविता लिखी है। आपके भी बहुत से दोस्त ऐसे ही होंगे जो आपको याद आएंगे इसे पढ़कर ������



    #anitya #osr #satender #ankahe_alfaz #ggk #ltnm #sona7 #ravina #apt #tspr #4ank #nrk #100rb #skt

    @anita_sudhir @sanjeevshukla_ @archana_tiwari_tanuja @diptianupam @_mann_j @amritsagar @sh_gopal @amanpreet_kaur @manav_9 @rangkarmi_anuj

    Read More

    दोस्ती

    जितने भी यार हैं मेरे सब कमीने
    पर हैं एक से बढ़कर एक नगीने

    आपस में सब मिलजुलकर रहे
    दूसरों को हमेशा उल्टी सीधी कहें
    आफत की सब पुडियां हैं सारे
    पर सब एक दूसरे की दोस्ती के मारे

    कोई बचपन से हरामी
    तो कोई खुराफात करता था
    कोई शांत ही रहता था
    तो कोई रोज नए ड्रामे करता था

    कोई पढ़ने में तेज
    तो कोई रंगरेज
    कोई बहानो का बादशाह
    कोई बातों से शहनशाह

    कोई चालबाज है
    तो कोई जालसाज है
    कोई दिल का राजा है
    चाहे पैसे से कोई अमीर ना हो
    पर ऐसा एक भी नहीं है
    जिसका अपना जमीर ना हो

    स्कूल से बंक लगवाया दोस्ती ने
    कॉलेज के लेक्चरों से भगवाया दोस्ती ने
    शराफत की पुड़िया थे हम तो
    जिंदगी से पंगे लेना सिखाया दोस्ती ने

    रोए कभी तो हसाया दोस्ती ने
    साथ मिलकर गम मिटाया दोस्ती ने
    लड़े, रूठे, बदनाम हुए एक दूसरे के लिए
    पर हमें काबिल बनाया दोस्ती ने

    तुम कब कहां मिलोगे ये दोस्त जानते हैं
    एक दूसरे को सब चलता फिरता ATM मानते हैं
    तुम चाहे हारो या जीतो फर्क नहीं पड़ता उन्हें
    वो हर बात में बस पार्टी मांगते हैं

    पर याद आते हैं अब सब जो नहीं मिल पाते
    चेहरे पर खुशियां बिखेर जाते थे कभी आते जाते
    मैं खुद से ही नाराज रहता हूं अब कभी कभी
    और बड़ी बड़ी लड़ाइयां सुलझ जाती थी
    दोस्ती में कभी हंसते हंसाते

    बेशक उनसे रोज बात ना हो पाती हो, पर
    उनकी बात है तो है ये दोस्ती
    वो बेशक साथ ना हों मेरे, पर
    वो हरपल साथ हैं मेरे तो है ये दोस्ती
    उनकी दोस्ती साथ है तो है ये दोस्ती

    जिंदगी में दोस्ती जैसी चट्टान,
    दोस्ती जैसा कोई कोना नहीं आया
    ये वो कमीने हैं जिन्हें याद करके कभी रोना नहीं आया

    ©atulmehpa

  • atulmehpa 121w

    बंटवारा - एक ऐसा शब्द जिसे मात्र सुनने से किसी घर की नींव हिल जाए, किसी देश की अर्थव्यवस्था जमीन पर गिर जाए। एक भरा पूरा देश बर्बाद हो जाए लेकिन जिसने आजादी मिलते ही ये सब झेला हो वो देश भला कैसे उबर सकता है इस दर्द से इतनी जल्दी। हम आज भी उस बंटवारे का दर्द झेल रहे हैं और ना जाने कब तक झेलते रहेंगे।
    एक कोशिश की है उस दर्द को लिखने की उम्मीद करता हूं किसी को ठेस नहीं पहुंचेगी ������

    @rangkarmi_anuj भाई जी आपकी पंक्तियों को रचना के हिसाब से जोड़ दिया है ������


    #anitya #osr #satender #ankahe_alfaz #ggk #ltnm #sona7 #ravina #apt #tspr #4ank #nrk #100rb #skt

    @anita_sudhir @sanjeevshukla_ @archana_tiwari_tanuja @diptianupam @_mann_j @amritsagar @sh_gopal @amanpreet_kaur @manav_9

    Read More

    बंटवारा(देश का)

    बंटवारा हुआ देश का
    जमीन बंट गई
    विचार बदल गए
    लोग बदल गए
    त्यौहार तो नहीं बदले
    पर लोगों के व्यव्हार बदल गए

    दुश्मनी बढ़ गई
    तनातनी बढ़ गई
    लोग मारे गए
    घर उजाडे गए
    बालक अनाथ हो गए
    बद से बदतर हालात हो गए

    लेकिन कुछ लोग तब भी आराम से थे
    सुकून से उन्होंने देश का बंटवारा होने दिया
    लाखों लोगों की लाशे गिरने दी
    लाखों बच्चों को बेसहारा होने दिया

    मैं पूछता हूं बंटवारा करवाने वालों ने क्या खोया?
    उनका तो कोई नहीं मरा था
    सत्ता के लोभी थे वो सब के सब
    अपनी ही जेबों को बस उन्होंने भरा था

    सवाल यहां ये है कि किसने हक दिया था उन्हें
    देश का बंटवारा करने का
    कौन थे वो लोग देश के? क्या किसी ने
    कारण पूछा था उनसे अपनो के मरने का?

    मरी थी इंसानियत
    मानवता मरी थी उस दिन
    किसी ने जिंदगी तो
    किसी ने अपनी अस्मत खोई थी
    तुम्हारी करतूतें देखकर उस दिन
    शायद मौत भी रोई थी

    लाशे बिखरी पड़ी थी हर तरफ
    उस दिन खून कि नदियां बही थी
    बस कुछ लोगों को आजादी का हीरो
    बताने में 73 साल गुजार दिए हमने
    क्या किसी ने उन मौतों की कहानी कही थी

    हम आजादी का जश्न मनाते हैं पर किसलिए?
    जितना हमने पाया उससे ज्यादा तो खो दिया
    और तुम्हारे इन खोखले तमाशों को देखकर
    वो आजादी का आखिरी सिपाही भी रो दिया

    रस्सी बकरी की देखकर खुश हो जाते हैं हम
    क्या शहीदों के फांसी के फंदे देखे हैं किसी ने कभी
    याद रखो इतिहासों को इतिहास फिर से ना दोहराया जाए
    किसी ने फिर से बंटवारे के पासे संसद में फेंके हैं अभी✍✍✍
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 122w

    कभी अकेले बैठो तो सोचना क्या हम पूरे हैं, जिंदगी पूरी जी ली हमने, सारी इच्छाएं पूरी हो गई हमारी? बहुत से खयाल आएंगे और आते ही चले जाएंगे। ये उन्हीं बातों को याद करते हुए लिखा है शायद आप सभी खुद को जोड़ पाएं ������

    इसे पढ़ने के बाद आने वाली रचना " बंटवारा"(देश का) के लिए सुझाव भी दे सकते हैं आप सभी सम्मानित लेखक। कोशिश करूंगा आपके भाव भी सम्मिलित करू अपनी रचना में ��������


    #anitya #osr #satender #ankahe_alfaz #ggk #ltnm #sona7 #ravina #apt #tspr #4ank #nrk #100rb #skt

    @anita_sudhir @sanjeevshukla_ @archana_tiwari_tanuja @diptianupam @satyarya_ @_mann_j @amritsagar @sh_gopal @amanpreet_kaur @manav_9

    Read More

    अधूरापन

    कुछ ख्वाब थे अधूरे
    कुछ हिसाब थे अधूरे
    कुछ रातें थी अधूरी
    कुछ यादें थी अधूरी
    सबको पूरा करने की कोशिश में हूं

    कुछ अपने छूटे थे
    कुछ अपने रूठे थे
    कुछ रास्ते छूटे थे
    कुछ मंजिलें छूटी थी
    बस, कुछ को मनाने की
    कुछ को पाने की कोशिश में हूं

    कुछ खुशी अधूरी थी
    कुछ हंसी अधूरी थी
    कुछ बातें अधूरी थी
    कुछ मुलाकातें अधूरी थी
    सबकुछ पूरा करने की कोशिश में हूं

    कुछ सीखना बाक़ी है
    कुछ पाना बाकी है
    कुछ खो चुका हूं
    कुछ पर हक जताना बाकी है
    इस बाकी को पूरा करने की कोशिश में हूं

    कुछ छूट गया
    कुछ छोड़ आया
    किसी ने मुंह मोड़ लिया
    किसी से मुंह मोड़ आया
    पर जिसे छोड़ा,
    जिससे मुंह मोड़ा
    उन्हें मनाने की कोशिश में हूं

    किसी को पसंद नहीं आए
    किसी को हम रास ना आए
    किसी ने दूरी बना ली हमसे
    किसी के हम पास ना आए
    अब इन दूरियों को मिटाने की कोशिश में हूं

    कुछ गम हैं दिल में अभी भी
    कुछ दर्द उभर जाते हैं
    कुछ भुलाए नहीं भुलाए जाते
    कुछ बेवफा रोज याद आते हैं
    मैं अब सबकुछ भुलाने की कोशिश में हूं
    और कुछ हर्फ लिखे थे कभी उसकी याद में
    उन्हें अब मिटाने की कोशिश में हूं
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 122w

    Collab with @loveneetm Bhai

    Read More

    इन अश्कों से कहो इंतजार करें बारिश का
    डूबकर आंसुओं में ही ना मर जाएं कहीं
    ©atulmehpa

  • atulmehpa 122w

    मैं तुम और मयखाना
    मैं - महक
    तुम - तुम्हारी/ मदहोशी
    और - और रात चांदनी(अतिरिक्त शब्द)
    मयखाना - महकती यादें
    खूबसूरत नज़ारे

    एक छोटी सी कोशिश @raaj_kalam_ka दीदी की विधा में।
    कहां से कहां जुड़ गया पता नहीं चला और लिख दिया

    #sbd_khel
    #anitya #osr #satender #ankahe_alfaz #ggk #ltnm #sona7 #ravina #apt #tspr #4ank #nrk #skt

    @anita_sudhir @sanjeevshukla_ @amritsagar @archana_tiwari_tanuja @diptianupam @satyarya_ @_mann_j @sh_gopal @amanpreet_kaur

    Read More

    मैं तुम और मयखाना

    महक
    तुम्हारी, मदहोशी
    और रात चांदनी
    महकती यादें
    खूबसूरत नज़ारे
    ©atulmehpa