aparnashiprasingh

growing and Glowing ������ Banarasi chori��

Grid View
List View
Reposts
  • aparnashiprasingh 6w

    प्यार और व्यवहार

    प्यार चाहे जितना जता लो ,पर व्यवहार थोड़ा भी खराब हुआ तो प्यार को दरकिनार कर देता है ।
    ©aparnashiprasingh

  • aparnashiprasingh 9w

    Peace

    Overthinking will kill your peace.
    Pray ,Trust and leave it in God's hands

    ©aparnashiprasingh

  • aparnashiprasingh 11w

    मोह

    जब किसी से मोह हो जाए
    और वह आपको ना समझे
    तो बहुत दुख होता है ।
    ©aparnashiprasingh

  • aparnashiprasingh 11w

    #broken # peace # banarshi # Ganga #mirakee

    Read More

    Silence

    Silence is best therapy for broken heart



    ©aparnashiprasingh

  • aparnashiprasingh 47w

    याद

    रातों की नींद खो गई है लग रहा है तेरी याद आ रही है

  • aparnashiprasingh 61w

    समंदर

    सुकून मिला जो तू मिला मुझे
    समंदर की गहराई सा अकेला था मैं।

    तेरी दोस्ती मिली तो मिला सुकून ,
    तेरी दोस्ती मिली तो मिला सुकून।
    तू होगा औरों के लिए शोर का सबब,

    मेरे लिए तो तू सुकून का समंदर निकला,
    हां समंदर की गहराई सा था अकेला ।
    तू मिला सुकून मिला।
    ©aparnashipra

  • aparnashiprasingh 62w

    Selfish

    किसी की कही गई बातें
    किसी के कहे गए शब्द
    इतने तीखे होते हैं मन को आघात कर जाते हैं।
    जब हम अपने बारे में सोचने लगते हैं ,। तो लोगों को हमारा स्वार्थ दिखने लगता है।
    स्वार्थी ही सही साहब हम तो खुद की सोचना पसंद करेंगे।
    आपकी सोच से तो हमारी जिंदगी आसान तो होगी नहीं ।
    तो हम अपनी सोच से अपने जीवन को चला कर देखें
    आसान तो नहीं पर सुकून भरा जीवन होगा।

    जहां फैसला भी हमारा हार भी हमारी और जीत भी हमारी,
    सब हमारा होगा स्वार्थी बन जाना ही जीत है हमारी।
    तो क्यों ना हम स्वार्थी ही बन जाए और खुद को जीत ले
    ©aparnashipra singh

  • aparnashiprasingh 65w

    Happy life

    THINK
    |
    BELIEVE
    |
    DREAM
    |
    DEAR


    ©aparnashipra

  • aparnashiprasingh 66w

    Sukoon part 1

    सुकून अपने आप में पूरी दुनिया समेटे हुए है।
    सुकून की तलाश में तो है सब।
    किसी ने कहा उनको सुकून पैसे से मिलता है। किसी ने कहा उनको सुकून अच्छा खाने से आता है।
    सुकून की तलाश में भटकते हैं आज के हम युवा वर्ग कहते हैं किसी से प्यार करके किसी से बात करके आता है सुकून उन्हें।
    हर किसी की अपनी अपनी सुकून पाने की अलग-अलग परिभाषाएं हैं।
    कभी शांत बैठो और घरवालों के हंसते चेहरे देखो सारी दुनिया का सुकून मिले तुम्हें शायद।
    सुकून कहीं और नहीं अपने अंदर ढूंढो किसी के चेहरे पर मुस्कान ला कर देखो, किसी को अपना बना कर देखो, किसी की भूख मिटा कर देखो, किसी का सहारा बनकर देखो बहुत सुकून मिलेगा।
    कभी खुद को शांत करके अपने बारे में भी सोचो वही तो सुकून है।
    ©aparnashipra

  • aparnashiprasingh 67w

    Destroy

    बर्बादी दो तरह की होती है
    एक जो वह जिसमें इंसान बाहर से बर्बाद होता है तो समाज या तो मजाक बनाता है या उसको सहानुभूति देता है।

    पर जब बर्बादी अंतर्मन की हो तो क्या कहेंगे ।
    जब बर्बादी अंतरात्मा की होती है तो इंसान का मजाक नहीं बनता है।
    उसके चेहरे पर खास मुस्कान होती है वह जो जोर जोर से हंसता है बर्बादी को छुपाता जो है।
    अंतर्मन की बर्बादी को झूठलाता जो है ।
    ©aparnashipra