anushkatwinkle

a mystery girl

Grid View
List View
  • anushkatwinkle 12w

    चले आओ ना

    दूरियों को भी शिकायत है.. चले आओ ना
    नजदीकियों को भी चाहत है.. चले आओ ना।
    फासलों में बेचैनी- इंतजार है बस
    नज़रों को भी जरूरत है... चले आओ ना।।

    बहुत हुई खामोशियां...आ भी जाओ अब
    बेसबर है सुनने को हम..आ भी जाओ अब।
    निगाहों से छू लेंगे बस आपको हम
    वासता है उन रूहदारियों का...आ भी जाओ अब।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 12w



    इंतजार करना भी जायज़ लगता है
    जब मिलने की उम्मीद हो ।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 37w



    ख़्वाब जलते हैं तो राख नहीं होती...
    मगर इसके धुएं से सब ओझल हो जाता है।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 47w



    तेरे हर्फ़ कातिलाना थे...
    पर तेरी ख़ामोशी तबाही ठहरी...।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 53w



    मेरी बुराइयां करने वाले लोग ..पीठ पीछे ही रहा करते हैं..
    क्योंकि सामने आने की औकात नहीं है..
    और ना आगे जाने की हैसियत ..।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 53w



    The journey from loneliness to solitude is quite hard...
    But it's the stage where presence of anyone or anything doesn't affects ur happiness...


    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 57w



    शायर बनने की हैसियत नहीं जवाब...
    बस उनके दिये ज़ख्मों को सुना दिया करते हैं... ।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 58w

    Not the you!!

    ("You" here means society)


    It's me who is blazing
    in the agony ...not the you
    It's me who is breathing
    In the lassitude.... Not the you

    If I am puerile u r immature too
    If I am cruel u r brutal too...
    Before hurling sludge over me
    Try to judge urself..

    You are sharp ray of sun
    But I am tranquil as moon
    You are chilled snow of winter
    But I am first drop of mansoon

    I can't conceal myself
    anymore and breath..
    Ooo dears please and please.
    Let not my spirit die...

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 59w



    सपने टूटते हैं तो नये ख्वाब बनते हैं...
    दिल टूटता है तो कभी जुड़ जाता है...
    पर जब उम्मीदें टूटती हैं तो
    इंसान बिखर जाता है...।।

    ©anushkatwinkle

  • anushkatwinkle 59w



    आईने से कहा मैंने .... अक्स दिखा दे मेरा
    कहता है वो.... बस रुह मैं कैसे दिखाऊं...।।
    ©anushkatwinkle