Grid View
List View
  • ajaypatel 6w

    By unknown writer

    Read More

    लिख दूं तेरी हंसी,
    या तेरा कोई फसाना लिख दूं,
    या यूं तेरा मुझे रातों को जगाना लिख दूं।

    लिख दूं तेरी हंसी,
    या फिर तेरा कोई उल्हाना लिख दूं,
    या यूं तेरा बिन कहे कुछ कहना लिख दूं।

    लिख दूं तेरी हंसी,
    या फिर तेरी तारीफें लिख दूं,
    या यूं तेरा मुझे आंखो से छेड़ना लिख दूं।

    पर इतना कितना लिख दूं,
    किताबे लिख दूं
    या सिर्फ तेरी हसीं लिख दूं।

  • ajaypatel 15w

    Mohobbat sirf tumse hi thori hai,

    Tere purple bag se lekar teri us smilie wali key ring tak,
    har cheez se mohobbat hai mujhe

    Tere curly hairs se lekar teri us pyari si smile tak,
    har cheez se mohobbat hai mujhe

    Tere naam se lekar tere ajeeb-o-gareeb nick name tak,
    Har cheez se mohobbat hai mujhe

    Mohobbat sirf tumse hi thori hai
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 15w

    बस यही गलती मै बार बार करता रहा,
    ज़िंदगी के पड़ावो को मंजिल समझता रहा ।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 16w

    मैं फिर मिलूंगा तुझे
    शायद तब तेरा जिक्र तुझसे कर सकूं
    शायद तब तेरा फिक्र तुझसे कर सकूं

    मिलूंगा जरूर मैं तुझसे
    इस आस में कि इस बार तो कुछ बातें होगी
    मेरे एक तरफे प्यार में कुछ तो बात होगी

    मिलूंगा जरूर मैं तुझसे
    और फिर वह मुलाकात तो शुरुआत होगी
    एक नईं कहानी की वहां से शुरुआत होगी
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 24w

    कुछ दोस्त दोस्ती सिखा गए,
    कुछ दोस्त दोस्ती करने का सबक सिखा गए।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 25w

    #Mahadev #shiv # mahakal #savan # life

    Read More

    जिनके शीश पर चंद्रमा चमकता है,
    वही तो मेरे चंद्रशेखर है।

    जो अपनी जटाओं में गंगा को धारण किए हुए है,
    वही तो मेरे गंगाधर है।

    जिनका कण्ठ विष से नीला हैं,
    वही तो मेरे नीलकंठ है।

    जो कालो के भी काल है,
    वही तो मेरे महाकाल है।

    जो देवो के भी देव है,
    वही तो मेरे महादेव है।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 26w

    कुछ सपने और कुछ हकीकते अधूरे छोड़ आया हूं मैं,
    बेहतर ज़िंदगी जीने के लिए एक बेहतर ज़िंदगी छोड़ आया हूं मैं।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 26w

    अयोध्या क्या, कही पूरा उत्तर प्रदेश कम ना पड़ जाए आकार में,
    सिर्फ इंसान ही नही नाग, यक्ष, गंधर्व और देवता भी बैठे है मेरे श्री राम के इंतजार में।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 27w

    अब घर के हर सूने कोनो से आवाज आ रही है।
    उसके पहली बार रोने से लेकर, पहले कदमों की आवाज आ रही है

    उसको चिढ़ाने से लेकर, "मम्मी भैया परेशान कर रहे है" की आवाज आ रही है।

    टी. वी के रिमोट पर हुई लड़ाई से लेकर , "भैया अभी मेरा सीरियल आ रहा" की आवाज आ रही है।

    उसके रूठने मनाने से लेकर, "अब मैं आप से कभी बात नही करूंगी" की आवाज आ रही है।

    उसकी खिलखिलाती हसी से लेकर, डोली उठने की शहनाई की आवाज आ रही है
    अब घर के हर सूने कोनो से आवाज आ रही है।
    ©ajaypatel

  • ajaypatel 47w

    ना उसमें खोना चाहता हूँ,
    ना उसे खोना चाहता हूं।।
    ©ajaypatel