Grid View
List View
Reposts
  • agypsysoul 7w

    Mirakee pe hi mulaqat hui thi aap se isliye laga yahan aapko shraddhanjali dena zaroori hai.

    Om Shanti ��

    You will be Missed Naushad ji.

    @naushadtm #kuchkahikuchankahi #thoughtsofagypsysoul #mirakee

    Read More

    उड़ गया कागज़ का वो बदन
    हम पत्थर-ए-क़ाबिल भी बन ना सके

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 48w

    प्रार्थना

    हे परम पिता, हे परवरदिगार
    शिकायत है तुझ से
    तू क्यों नहीं सुनता बेबस दिल की पुकार

    जो कर रहे है गलतियां बार बार
    जो खेल रहे अब भी इंसान से इंसानियत से
    तू बेशक दे उन्हें सज़ा
    उन पर अवश्य पड़े किस्मत की मार
    जिन में अब भी नहीं है कोई सुधार

    हे परम पिता हे परवरदिगार
    विनती है तुझ से
    सुन ले तू इस दिल की गुहार

    माना के हमसे है हुई हजारों गलती
    पर हम है तेरे बच्चे और तू प्रभु है दया निधान
    हम है शर्मिंदा और शमाप्रार्थी
    तेरे शरण में आए हम प्रभु
    फिर शरणार्थियों को क्यों रहा है तू धिक्कार

    हे परम पिता है परवरदिगार
    प्रार्थना है हमारी
    सुन ले तू तेरे बच्चों की पुकार

    मंझधार में डोल रही है जीवन की नैया
    नैया का, हे ईश्वर, तू ही है खिवैया
    थक चुके है हम, लड़खड़ा रहे है अब कदम
    ना ले तू अब परीक्षा बार बार
    अर्ज़ है तुझसे लगा दे बेड़ा पार

    हे परम पिता हे परवरदिगार
    नमन है तुझ को
    कर ले तू अब ये पुकार स्वीकार

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 61w

    Happy Holi
    होली की हार्दिक शुभकामनाएं

    PC : google/Shutterstock

    #holi #thoughtsofagypsysoul #kuchkahikuchankahi #mirakee #writerstolli

    Read More

    फाग का चढ़ा रंग हर अंग
    नशीला हुआ मन बिन पिए भंग
    पिया ने जो लगाया मोहे अंग
    होली का है आज कुछ अलग ढंग

    मुरली की तान पर सखा-सखियों संग
    मन में जगे अरमानों के तराने,उमंगों के रंग
    हर ताल पे थिरके है कदम, हृदय बजा रहा मृदंग
    झूमे है धरती-गगन, डोल रहा मन बनके मलंग

    हर तरफ छाया रहे हर्ष उल्लास का रंग
    रंगो में घुले एकता के रंग सौहार्द के रंग
    हृदय से हृदय के मिलन का रंग
    सराबोर हो हर एक मन बस प्रेम रंग
    बस प्रेम रंग

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 62w

    Women pulling women down
    Women being mean
    We demand gender equality
    Ironically same gender we try to demean
    When she is a mother or a daughter
    She is selfless and giving
    Why does she changes so much
    When In- law becomes her tagging
    She forgets she is a girl
    When for dowry another woman she burns
    Or she demands a girl child to be aborted
    To all the pleads,pains and cries her back she turns
    Body shaming other women, judging them
    We forget they might be going through similar struggle we are going through
    When we ourselves won't let how would women grew
    On convenience sometimes we play the victim and the feminist card
    We want men to support us, empower us but
    We push other women down making them fall hard
    Women is the biggest enemy of other women
    Lets alter this fact, stand with eachother rather than daunt
    Let's change our attitude towards ourself first
    To bring the positive change we want

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 62w

    तेरे इश्क़ ने हमें दीवाना किया
    तेरी दीवानगी ने बनाया आवारा
    तेरी तलाश में दर-ब-दर भटकता फिरा
    जैसे कोई खानाबदोश बंजारा

    ठोकरें खाईं, लहूलुहान हुए
    तेरे इश्क़ में हर महफ़िल बदनाम हुए
    तुझ बिन फिर भी कुछ ना सूझे,बन गया नकारा
    हाल हुआ ये मेरा जब से तुझ पे दिल हारा

    आरज़ू भी तू है जुस्तजू भी तू
    आगाज़ भी तू है अंजाम भी तू
    तू ही रूह का सुकून,दरिया-ए-इश्क़ का तू ही किनारा
    कभी तू,कभी तेरी यादें मेरे जीने का बन गई सहारा

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 63w

    Move On

    Memories ensued a stampede
    Heart trampled
    Soul bled
    Was i thinking of a "Move on"
    ©culpritwords

    Dreams crushed nightmares engulfed
    My being broken into pieces
    Wounded soul bleeding tears
    I was living a delusion
    It had been long, you had moved on

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 63w

    तेरी आंखों के भूल भुलैया में
    उलझता ही चला जाता हूं
    तेरे लट ने जो बांधी है गिरह
    खोल ना पाता हूं

    दिल तेरे रुख़्सार पे फिसलता चला जाता है
    दिल को संभाल नहीं पाता हूं
    तेरे तबस्सुम के भंवर में
    डूबता चला जाता हूं

    मन खुद को रोक नही पाता है
    मैं तेरी ओर ही खिंचा चला जाता हूं
    पुर-कशिश जादू-ए-हुस्न में खो के
    खुद को ही भुला जाता हूं

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 64w

    First Kiss

    When bodies are frozen
    Yet it feels warm
    Tingling in there you just look at each other
    Words don't but passions express
    Lips melt in a gentle caress
    Eyes closed yet seeing it all
    You want to stop yet bodies want to feel more
    Breaths tickling the nape of her neck
    A first kiss greets you this way
    And marks it as a moment forever
    ©culpritwords

    Moments frozen in desire
    Heart melting in the warmth of passion
    Butterflies in stomach,
    Stars twinkling when eyes meet
    Riding in rollercoaster
    Sweeping off the feet
    Mind goes numb
    Lost completely in the intense sensation
    The world goes blur
    The first kiss remains etched in soul forever

    ©agypsysoul

  • agypsysoul 66w

    मुद्दते गुज़र गयी, आज भी, आधी रात तेरी याद दस्तक दे जाती है
    किताब में रखे उस सूखे फूल से आज भी तेरी खुशबू आती है


    ©agypsysoul

  • agypsysoul 67w

    In papers I read you were dead
    The headlines was pest finally put to rest
    I dreaded more cos I knew what nightmare is in store

    ©agypsysoul