Grid View
List View
Reposts
  • adhurasafar 23w

    खता ।

    खता बस इतनी कि एक मज़ाक कर बैठे ,
    सज़ा ये हुई की उनकी ज़िंदगी में मज़ाक बन बैठे ।।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 24w

    ए यार तेरे खातिर हमने वो दिन भी हस कर गुज़ार दिए ,
    जिन दिनों मे हमको गुज़र जाना चाहिए था ।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 24w



    Ek mae jiske paas bacha kuch nii unko dene ko
    Ek wo jinka dil ab bhi bhara nii sb kuch lene ke baad
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 29w

    मात = हार ।

    Read More



    मै कोई ग़ज़ल यूं लिखूं ,
    की मेरी मौत हो जाए ।
    बेशक तू ज़िंदा रहे ,
    लेकिन तेरी मात हो जाए ।।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 29w



    हादसों के तजुर्बों से हिदायत होती है ,
    तजुर्बों की हिदायत से ज़िन्दगी ।।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 31w

    शिकायत

    ये कैसी शिकायत ,
    कि अब शिकायत नहीं करते ।
    ये कैसा इश्क़ ,
    तुम इबादत नहीं करते ।।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 31w

    कलम ।

    मेरी कलम मेरी साथी है,
    जो मै अपनों से नहीं कहता
    वो मेरी कलम सभी को बताती है ।
    मै जब सबसे रूठ जाता हूं,
    तब मेरी कलम मुझसे बतलाती है ।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 31w



    मैने तन्हाई में एक यार को याद किया ,
    उसने मुंह मोड़ा फिर उम्मीद को मेरी
    तार- तार किया ।
    मै चाहता था मुझसे पूछे वो हाल मेरा ,
    उसने तो अपने हाल मुझे बताने से भी
    इन्कार किया ।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 35w

    Jazz❣️

    Read More

    तू । ❣️

    मेरा इश्क़ तू मेरी आशिक़ी ,
    मेरा चकोर तू मेरी चांदनी ।
    मै कोई शायर जैसे ,
    तू बन मेरी शायरी ।।

    मेरा भोर तू मेरी शाम भी ,
    मेरे लफ्ज़ तू मेरी कहानी ।
    मै कोई मुसाफिर ,
    तू बन मंज़िल मेरी ।।

    मेरा ख्वाब तू मेरी नींद भी ,
    मेरे हाथ तू लकीर भी ।
    मै बन जाऊं वीर तेरा ,
    तु बन ज़ारा मेरी ।।
    ©adhurasafar

  • adhurasafar 35w

    वफा

    मुझे मेरी वफा पे गरूर था ,
    उन्हें मेरे गारूर पे शक हो गया ।
    ©adhurasafar